7

पूर्वी लद्दाख में चीन के साथ भारत का तनाव चल रहा है, दोनों ही देशों की सेना मोर्चा संभले बैठी हैं। लद्दाख में इस वक़्त पचास हज़ार से अधिक सैनिक दोनों ही तरफ से भीषण सर्दी में तैनात हैं। चीन और भारत के बीच युद्ध जैसे हालात बने हुए हैं, दोनों देशों के बीच बातचीत के माध्यम से तनाव कम करने के लिए कई बैठक भी हो चुकी हैं लेकिन हालात नहीं बदले। चीन अपने स्पेशल फाॅर्स के जवान सीमा पर उतार चुका है, जिसे देखते हुए भारत ने अब LAC पर सबसे खतरनाक मार्कोस कमांडो उतार दिया है। जो चीन को हर तरह का जवाब देने में सक्षम हैं।

इंडियन नेवी ने अपने मार्कोस कमांडो लद्दाख में पैंगोंग झील के पास तैनात कर दिया है। इस तनावपूर्ण क्षेत्र में इससे पहले से ही एयरफोर्स के गरुड़ कमांडो और आर्मी की पैरा स्पेशल फोर्स तैनात है। सर्दी बढ़ने के साथ चीन को भी नापाक हरकत को अंजाम न दे सके इसलिए भारतीय सेना बिलकुल तैयार है। वहीं जल, थल और वायु सेना के ये कमांडो चीन की किसी भी स्पेशल फाॅर्स को मिनटों में धूल चटा सकते हैं। भारत चीन सीमा का हिस्सा पैंगोंग झील से जुड़ता है और चीन ने फिंगर चार से आठ तक कब्ज़ा कर रखा है।

Are the MARCOS better than the Navy SEALs? - Quora

चीन को जवाब देने के लिए आर्मी और एयरफोर्स के कमांडो पहले से ही तैनात थे लेकिन झील के क्षेत्र में अगर चीन कोई हरकत करता है तो उसको जवाब अब मार्कोस कमांडो देंगे क्योंकि इन्हे पानी में युद्ध दुश्मन को ढेर करने की कला खूब आती है।नौसेना के इन कमांडों को वर्ष 2016 में पहली बार जम्मू कश्मीर में तैनात किया गया था, ऐसा इसलिए किया गया था, जिससे इन्हे जमीन पर ऑपरेशन करने का अनुभव मिल सके। घाटी में मार्कोस कमांडो ने कई बड़े सफल ऑपरेशन भी किए है। इसकी वजह से ही इन्हे अब LAC पर तैनात किया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here