कांग्रेस आलाकमान से अब विधानसभा चुनाव में जीत हासिल करने के बाद अब अपने तीसरे राज्य छत्तीसगढ़ के लिए भी मुख्यमंत्री का चुनाव कर लिया है। बता दें कि छत्तीसगढ़ के तीसरे मुख्यमंत्री भूपेश बघेल होगें। आधिकारिक तौर पर बघेल के नाम का ऐलान हो गया है।

इससे पहले प्रदेश में मुख्यमंत्री का नाम तय करने के लिए कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने सभी दावेदारों के साथ लंबी चर्चा की। राहुल के सरकारी निवास पर हुई बैठकों के बीच यूपीए अध्यक्ष सोनिया गांधी भी शनिवार को बारह तुगलक लेन पहुंची। शनिवार दोपहर के वक्त ऐसा लगा कि मुख्यमंत्री के नाम पर सहमति बन गई है, पर कुछ देर बाद दावेदारों में फिर जोर आजमाइश शुरू हो गई। शुरुआत में ताम्रध्वज साहू के नाम पर लगभग सहमति बन गई थी। लेकिन आखिरी समय में भूपेश बघेल ने बाजी मार ली।

सोमवार 17 दिसंबर को भूपेश बघेल छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री पद की शपथ लेगें। बता दें कि मध्यप्रदेश और राजस्थान के नवनिर्वाचित मुख्यमंत्री भी इसी दिन शपथग्रहण करेंगे।

भूपेश बघेल कि राजनीतिक जीवन की बात करें तो 1990 के दशक में कांग्रेस से राजनीतिक की शुरुआत करने वाले बघेल अब तक वे पांच बार विधानसभा का चुनाव जीत चुके हैं। इस बीच वे 2008 में विधानसभा चुनाव भी हारे और दो बार लोकसभा चुनाव लड़कर पराजय का सामना कर चुके हैं। वर्ष 2003 से 2008 के बीच वे विधानसभा में उपनेता प्रतिपक्ष भी रहे। इस बार बघेल ने पाटन सीट से बीजेपी के मोतीलाल साहू को 26.477 मतों से पराजित किया। पिछड़ा वर्ग से आने वाले भूपेश बघेल मूल रूप से किसान है, वे एक संपन्न किसान परिवार से आते हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here