जी हां..यहां पर हम आपको बताते चले कि ये पूरा मामला तेंलगाना का है और इस मामले में भी वही हुआ, जिसका खौफ मौेके पर मौजूद सभी लोगों को था। दरअसल, जैसे ही दुल्हन ने अपने पुराने प्यार को देखा तो उसका पुराना प्यार जाग गया। उसके पुराने अरमान जाग गए। जाग गए उसके वो अरमाम, जो उसने कभी अपने पुराने महबूब के साथ सजोए थे, और फिर अपने पुराने अरमानों को नए पंख देने के लिए वो फौरन अपने पुराने प्रेमी के पास दौड़ती हुई पहुंच गई।

हालांकि, इस दौरान वो सब कुछ हुआ, जिसकी संभावना अमूमन बनी रहती है या फिर, जो हमेशा से हमें हिंदी फिल्मों में देखने को मिला करता है। इस शादी समारोह में भी लोगों ने दुल्हन को रोकने की कोशिश की, समझाने की कोशिश की, उसे यह बताने की कोशिश की कि यह तुम्हारे माता-पिता के इज्जत का सवाल है। तुम ऐसा मत करो। बिरादरी वाले क्या कहेंगे। रिश्तेदार नातेदार क्या कहेंगे, मगर दुल्हन तो इन सबसे बेपरवाह होकर अपने पुराने प्यार के खुमार में मदहोश होकर अपने पुराने महबूब के साथ नई जिंदगी के सफर के लिए निकलने पर आमादा हो चुकी थी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here