3

जम्मू कश्मीर (Jammu Kashmir) की पूर्व सीएम और पीडीपी अध्यक्ष महबूबा मुफ़्ती (Mehbooba Mufti) ने केन्द्र सरकार को धमकी देते हुए कहा कि अमेरिका की जैसी हालत अफगानिस्तान में हुई ठीक वैसी ही हालत कश्मीर में भारतीय सेना की होगी। कुलगाम में एक जन सभा को संबोधित करते हुए महबूबा ने अफ़ग़ानिस्तान का हवाला देते हुए कहा कि ठीक ऐसा ही उलटफेर कश्मीर में भी होगा। भारतीय सेना हाल अमरीकी सेना जैसा हाल होने की बात पीडीपी चीफ ने कही। महबूबा का कहना है कि पिछले कुछ समय से राज्य की जनता का दमन किया जा रहा है। लोगों से उनके सभी अधिकार छीन लिए गए। उसकी प्रतिक्रिया में अगर लोगों का गुस्सा फूटा तो भारतीय सेना का भी वही हश्र होगा जो अफ़ग़ानिस्तान में अमेरिका का हुआ है।

पूर्व सीएम ने कहा कि अगर हाथी की सूंड में एक चींटी भी घुस जाए तो उसका जीना हराम कर देती है। कश्मीरी बुजदिल नहीं है और न ही बन्दूक उठाने में कोई बहादुरी है लेकिन जिस दिन यहां के लोगो के बर्दाश्त का बांध टूटा उस दिन आप भी नहीं रहोगे। केंद्र की बीजेपी सरकार पर कश्मीरी लोगो की आवाज़ दबाने का आरोप लगाते हुए महबूबा मुफ़्ती ने कहा कि इम्तिहान ना लें सरकार। केंद्र सरकार कश्मीर को लेकर अपनी नीति बदलाव करे और वाजपेयी के दिखाए रास्ते पर चल कर राज्य को विशेष दर्जा वापस लौटा दे। दोबारा सभी पक्षों से जम्मू-कश्मीर समस्या का समाधान ढ़ूंढ़ने के लिए बातचीत शुरू करें।

नेहरु की तारीफ
महबूबा ने कांग्रेस की तारीफ करते हुए कहा कि इस मुल्क को कांग्रेस ने बचाए रखा। गलतियां उन्होंने भी कीं लेकिन देश को एक रखा। देश में पिछले 6-7 सालो में जो कुछ हो रहा है उसे देखकर यही लगता है कि बीजेपी हिंदुस्तान के टुकड़े-टुकड़े कराना चाहती है। वहीं जवाहरलाल नेहरू की तारीफ करते हुए महबूबा ने कहा कि हिंदू बहुल भारत के साथ पंडित नेहरू की वजह से जम्मू कश्मीर का विलय हुआ था। उस समय अगर बीजेपी सत्ता में होती तो कश्मीर भारत में नहीं मिलता।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here