चीन में कोरोना वायरस के फैलने की रफ्तार बढ़ती ही जा रही है। शुरुआत में नोवेल कोरोना वायरस जानवरों से कुछ इंसानों तक फैला। अब ये मुख्य रूप से इंसानों से ही इंसानो के बीच फैल रहा है। इंसानों में भी मुख्य रूप से लोगों की सांस के संपर्क में आने से, छींकने से, खांसने से

दिया जा रहा है कछुए का मांस:

इस बीच खबर आ रही है कि चीन में कोरोना वायरस के मरीजों को खाने में कछुए का मांस दिया जा रहा है। वुहान जहां से कोरोना वायरस फैलना शुरू हुआ था। यहां मरीजों को इससे लड़ने के लिए खाने में कछुए का मांस दिया जा रहा है। हालांकि वुहान के अस्‍पतालों के इस फैसले पर विशेषज्ञ गंभीर सवाल उठा रहे हैं।

क्या इसकी वजह:

डेलीमेल की र‍िपोर्ट के मुताबिक हुबेई प्रांत की राजधानी वुहान के अस्‍पतालों में अलग-थलग रखे गए मरीजों को रात के खाने में कछुए का मांस परोसा जा रहा है। चीनी मीडिया में जारी एक विडियो में एक व्‍यक्ति ने दावा किया, ‘आज के खाने में नरम कवच वाले कछुए का मांस भी दिया गया।‘ चीन के परंपरागत चिकित्‍सा विज्ञान में कछुए के मांस को पोषक तत्‍वों से भरा माना जाता है।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here