केंद्र सरकार द्वारा इसके लिए दिशा- निर्देश जारी किए गए हैं। जिनका पालन करना श्रद्धालुओं का भी है और धार्मिक संस्था का भी। खबरों के अनुसार माता वैष्णो देवी श्राइन बोर्ड ने जून के दूसरे हफ्ते में दरबार की यात्रा शुरू करने का फैसला किया है। जिसे लेकर माता वैष्णो देवी श्राइन बोर्ड ने सरकार द्वारा जारी गाइड लाइन्स को ध्यान में रखते हुए सभी तैयारियां भी शुरू कर दी हैं।

यात्रा के दौरान यात्री सोशल डिस्टेंसिंग का पूरा पालन करें इसके लिए कटरा हेलीपैड के साथ ही सांझी छत हेलीपैड पर भी सरकार द्वारा नियमों के हिसाब से यात्रियों के बीच सोशल डिस्टेंसिंग बने रहे इसके लिए 6 फुट की दूरी पर निशान लगा दिए गए हैं। इसके अतिरिक्त वैष्णो देवी मंदिर पर भी गेट नंबर 1-3 तक निशान लगा दिए गए हैं। वहीं इस दौरान मंदिर में पुताई का काम भी शुरू हो चुका है। इस बात की जानकारी मिल रही है कि, शुरूआती दौर में कुछ दिनों तक सिर्फ स्थानीय श्रद्धालुओं को ही मंदिर के अंदर जाने की अनुमति मिलेगी।

जल्द शुरू होने वाली यात्रा को देखते हुए माता वैष्णो देवी श्राइन बोर्ड ने अपने सभी कर्मचारियों की तैनाती एक बार फिर शुरू कर दी है। वैष्णो देवी यात्रा पर आने वाले श्रद्धालुओं को पहले की तरह ही सभी सुविधाएं दी जायेगीं। लेकिन अब कटरा से सांझी छत तक हेलीकॉप्टर सेवा लेना यात्रियों 65 प्रतिशत महंगा पड़ेगा। जहां पहले कटरा से सांझी छत का किराया 1,045 रुपए पड़ता था और आना जाना 2,090 रुपए पड़ता था वहीं अब यह किराया एक तरफ का ही 1,730 रुपए हो चूका है। यानी आना जाने पर एक व्यक्ति का किराया 3,460 रुपए लगेगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here