6

देश में फैली कोरोना वायरस (Corona virus) की दूसरी लहर ने चारों तरफ तबाही मचा कर रखी है। ऐसे में लोगों की दिनचर्या पर बुरा असर पड़ रहा है। हर दिन संक्रमित मरीजों (Infected patients) के आकड़े बढ़ते नजर आ रहे हैं। दूसरी लहर से सबसे ज्यादा प्रभावित राज्य महाराष्ट्र है। जहां इस महामारी ने लोगों की कमर तोड़ दी है। महामारी की रोकथाम के लिए यहां छोटे रूप में लॉकडाउन लगाया गया है।

महाराष्ट्र सरकार ने कोरोना वायरस के कहर को रोकने के लिए 15 दिन का मिनी लॉकडाउन लगाया है। ताकि लोगों पर कड़ी तहर से पाबंदी की जा सके। लेकिन यह भी कहा जा रहा है कि अगर लोग इन नियमों का सही से पालन नहीं करती है तो पूरी तरह से लॉकडाउन लगाया जा सकता है।

तीन रंग के जारी किए गए पास

ऐसे में पुलिस ने लोगों के जरूरी कामों के लिए लगे वाहनों का पास जारी किया है। जो सिर्फ उन लोगों को ही दिया जाएगा जो किसी जरूरी काम के लिए आवागमन कर रहे है। सरकार द्वारा पास जारी किए गए हैं। जारी किए गए पास तीन रंग के है। लाल, हरे और पीले रंग के ये पास वाहनों पर लगाए जाएंगे। जिससे वे जरूरी सेवाओं के लिए सड़क पर चल सकते हैं। मुंबई सहित पूरे महाराष्ट्र में 1 मई सुबह सात बजे तक धारा 144 लागू है।

मेडिकल स्टाफ को लाल रंग का पास

मुंबई पुलिस के कमिश्नर हेमंत नागराले ने कहा, ”मुंबई पुलिस ने लॉकडाउन के समय जरूरी सेवाओं में लगे वाहनों के लिए तीन रंग के लाल पीले और हरे पास जारी किए हैं। जिसमें उन्होंने बताया कि मेडिकल स्टाफ के लिए लाल रंग के पास होगा। खाद्य सेवाओं से जुड़े वाहनों के लिए हरे रंग के पास लगाए जाएंगे। तथा और जरूरी सेवाओं के लिए पीले रंग के पास हैं।  उन्होंने कहा जो लोग इन पास का गलत प्रयोग करेंगे उनके खिलाफ कानूनी कार्रवाई की जाएगी।”

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here