6

घटना शाहजहांपुर जिले के तिलहर थाना छेत्र की है, जंहा के बेसिक शिक्षा विभाग में तैनात शिक्षक चाँदमियां ने बच्चो की इस बात पर पिटाई लगा दी, कि बच्चो ने उन्हें सुबह सुबह आकर गुड मॉर्निंग बोल दिया था। लेकिन शिक्षक चाँदमियां चाहते थे, की बच्चे गुड़ मॉर्निंग न बोल कर सलाम बोले। जिसके बाद गांव बालो ने शिक्षक चाँदमियां के ऊपर धार्मिक तरीके से अभिनंदन ना करने पर बच्चों की बेरहमी से पिटाई का मामला दर्ज कराया।

इस घटना के बाद से बेसिक शिक्षा विभाग में हड़कंप मचा हुआ है और ये मामला तूल पकड़ता जा रहा है। शिक्षक पर धार्मिक तरीके से अभिनंदन ना करने पर बच्चों की बेरहमी से पिटाई का मामला सामने आया है। शिक्षक के खिलाफ लोगों का गुस्सा फूट पड़ा है। इस घटना के बाद बच्चों के अभिभावकों ने गांव में निरीक्षण को आई प्रमुख सचिव डिंपल वर्मा से इसकी शिकायत की।

शिक्षक धार्मिक प्रवृत्ति का

खबरों के आधार पर बताया जा रहा है, की आरोपी टीचर धार्मिक प्रबृति का है। इसी बजह से उसको गुड़ मॉर्निंग कहना पसंद नहीं है। जिसकी बजह से बह हिन्दू बच्चो को जबरदस्ती सलाम कह कर अभिबादन खाने को मजबूर करता था। लेकिन बाचो और उनके अभिबाहको ने इसका विरोध किया। तब शिक्षक ने खुंदस में आकर बच्चो को बेहरमी से पीटना सुरु कर दिया।

शिक्षक ने बताया झूठा आरोप

मामले की गंभीरता देखते हुए बेसिक शिक्षा विभाग ने शिक्षक को निलंबित कर जांच के आदेश दे दिए है। बच्चों और उनके मां बाप का आरोप है कि स्कूल का टीचर बच्चों को सलाम कहने के लिए विवश कर रहा था। लेकिन आरोपी शिक्षक ने अपने ऊपर लगे सभी आरोपों को झूठा करार देकर मामले से बचने की कोसिस में कर रहा है।

आरोपों के बाद मामले की जाँच करने के लिए पूरा बेसिक शिक्षा विभाग का अमला गांव पहुंचा जहां अधिकारियों ने बच्चों और उनके मां बाप के बयान लिए। आपकी जानकारी के लिए बता दे, कि मामले में लीपा पोती करके आरोपी टीचर को बचाने के लिए बेसिक शिक्षा विभाग की टीम भी बाज नहीं आ रही है। इधर अधिकारियो का कहना है, की शुरुआत में ही आरोपी टीचर को निलंबित कर जाँच के आदेश दे दिए गए है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here