3

फिरकी के जादूगर भारतीय क्रिकेट टीम के स्पिन गेंदबाज युजवेंद्र चहल ने कुलदीप यादव के साथ अपनी जोड़ी टूटने को लेकर खुलासा किया है। दोनों का ही टीम में एक साथ वापस खेलने का सपना अब सपना ही हो गया है। इस जोड़ी ने अक्सर सामने वाली टीम की दांत खट्टे किये हैं लेकिन खराब फॉर्म से गुजर रहे दोनों खिलाड़ी अभी फिलहाल एक साथ जल्द टीम में खेलते हुए नजर नहीं आने वाले हैं। चहल अपनी खराब गेंदबाजी की वजह से टीम में जगह बनाने के लिए संघर्ष करते हुए दिखाई दे रहे हैं, जबकि कुलदीप यादव तो टीम से बाहर ही चल रहे हैं। दोनों को जब अलग-अलग किया गया, उस दिन से दोनों की खराब फॉर्म भी शुरू हो गई।

दोनों ही स्टार गेंदबाजों के अलग होने असल वजह क्या थी। इस बारे में चहल ने एक निजी न्यूज़ चैनल से बात करते हुए बताया। 2018 तक चहल और कुलदीप टीम इंडिया के लिए एक साथ खेल लेकिन हार्दिक पंडया तेज गेंदबाज होने के साथ बल्लेबाजी भी अच्छी करते है। जब वो गेंदबाज़ी करते थे तो दो स्पिन गेंदबाज टीम में खेलते थे लेकिन जब से वो चोटिल हुए और गेंदबाजी बंद की तो रविंद्र की टीम में जगह बन गई और यही से चहल और कुलदीप के दिन बदल गए।

जडेजा स्पिन ऑलराउंडर और हार्दिक के चोट लगने की वजह से वो टीम आ गए। ऐसा इसलिए क्योंकि टीम में कॉम्बिनेशन बना रहे और 7 नंबर तक बल्लेबाज खेले। इसके बाद अब टीम की अंतिम 11 में मुझे या फिर कुलदीप को चुना जाना था।

चहल का कहना है कि अगर टीम जीत रही है और मैं बाहर बैठा हूं तो मुझे कोई परेशानी नहीं है। मैं खुश रहूंगा। पिछले वर्ष करीब 6 माह बाद न्यूजीलैंड में वनडे सीरीज खेली थी। मैं नेट पर अच्छी गेंदबाजी कर रहा था और मुझे उम्मीद थी कि मैं अच्छा करूंगा। मुझे ऐसा कभी नहीं लगा कि मैं टीम का हिस्सा नहीं हूं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here