4

उत्तर प्रदेश में कोरोना वायरस की चेन तोड़ने के मकसद से मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कोरोना कर्फ्यू की समय सीमा एक हफ्ते के लिए और बढ़ा दी है। सरकार कोरोना महामारी को नियंत्रित करने के लिए कर्फ्यू को कारगर उपाय मान रही है। यही वजह है कि अब प्रदेश में31 मई सुबह सात बजे तक के लिए कर्फ्यू बढ़ा दिया गया है। इसके साथ ही सरकार कोरोना महामारी की तीसरी लहर से भी निपटने की तैयारी कर रही है। वहीं सरकार ब्लैक फंगस की भी चुनौती का सामने करने की प्लानिंग कर रही है।

गौरतलब है कि सीएम योगी आदित्यनाथ कोरोना की दस्तक के समय से ही कोविड प्रबंधन की कमान संभाल रहे हैं। प्रदेश में बढ़ते कोरोना के प्रकोप को देखते हुए सीएम ने पहले शनिवार-रविवार की साप्ताहिक बंदी फिर शनिवार, रविवार और सोमवार की बंदी का ऐलान किया था। इसके बेहतर परिणाम देखते हुए पहले 17 मई तक प्रदेश में संपूर्ण लाकडाउन लगाने की बजाए आंशिक कोरोना कर्फ्यू लगाया गया जिसे बाद में बढ़ाकर 24 मई तक और अब 31 मई तक कर दिया गया है। शनिवार को कानपुर मंडल के दौरे से लौटने के बाद मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने टीम-9 के साथ अपने सरकारी आवास पर बैठक की और हालात की समीक्षा की।

एक जून से होगा टीकाकरण

सीएम ने आंशिक कोरोना कर्फ्यू के सकारात्मक परिणाम को देखने के बाद इसकी अवधि बढ़ा दी है। हालांकि इस दौरान आवश्यक वस्तु, चिकित्सा, औद्योगिक गतिविधियां आदि चलती रहेंगी। बता दें कि आंशिक कर्फ्यू लगने के बाद से प्रदेश में संक्रमण की दर लगातार गिर रही है। मरीज लगातार स्वस्थ हो रहे हैं। वैश्विक महाकारी कोविड के सेकेंड स्ट्रेन पर अंकुश लगाने के साथ ही प्रदेश सरकार थर्ड स्ट्रेन से निपटने की भी तैयारी शुरू कर चुकी है। इसी तैयारी के तहत सीएम ने प्रदेश के सभी 75 जिलों में एक जून से टीकाकरण के अभियान को तेज का निर्देश दिए है। अब प्रदेश में एक जून से सभी जिलों में 18 वर्ष से अधिक उम्र के लोगों को कोरोना वैक्सीन की डोज दी जाएगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here