10

जानकारी के अनुसार सेवायोजन विभाग के निदेशक कुणाल सिल्कू सभी डीएम और सीडीओ के साथ वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए बात कर चुके हैं। इस कांफ्रेंसिंग में उन्होंने अधिकारियों को यूजर पासवर्ड के साथ इस पोर्टल पर अपने यहां चल रहे कामों के लिए आवश्यक कामगारों का ब्योरा उपलब्ध कराने के लिए कहा है। साथ ही इस पोर्टल में दर्ज श्रमिकों के हुनर के हिसाब से उन्हें अपने काम उपलब्ध कराने का तरीका भी बताया।

ज्ञात हो कि सेवायोजन विभाग के इस पोर्टल पर पहले 35 लाख ऑनलाइन पंजीकृत बेरोजगारों को दर्ज किया गया। इसी के साथ ही राहत आयुक्त कार्यालय व राजस्व विभाग से मिले 35 लाख श्रमिकों का ब्योरा दर्ज कर उन्हें भी पोर्टल में शामिल किया गया है।

इतना ही नहीं पोर्टल में इन सभी के पेशे के बारे में भी बताया गया है। बताते चलें कि सेवायोजन विभाग घर के निजी काम के लिए प्लम्बर, कारपेंटर इलेक्ट्रीशियन, कुक या निर्माण कराने के लिए राजगीर व मजदूर भी उपलब्ध कराएगा। इसके लिए विभाग की तरफ से साफ्टवेयर तैयार किया रहा है। इसके लिए विभाग विभिन्न निजी एजेंसियों को इसी माह टेण्डर के मार्फत आमंत्रित करेगा। इसमें एक एजेन्सी का चयन किया जाएगा। एजेन्सी क्षेत्रवार कामगारों को उनके घर के करीब काम दिलाएगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here