उधर चीनी सेना के भी करीब 40 जवान या तो मारे गये थे या फिर जख्मी हुए थे। दोनों देशों के बिच बढ़ते इस तनाव को देखते हुए कॉन्फेडरेशन ऑफ ऑल इंडिया ट्रेडर्स (CAIT) ने भारतीय सेलेब्रिटीज द्वारा की जा रही चीनी ब्रांड्स की एंडोर्समेंट को लेकर चिंता जाहिर की है,। CAIT का कहना है कि देश के हित में भारतीय सेलिब्रिटी तत्काल प्रभाव से चीनी ब्रांड्स का एंडॉर्समेंट बंद कर देना चाहिए। दूसरी तरफ चीनी कंपनियां दोनों देशों के बीच मौजूदा तनाव को देखते हुए कुछ जरुरी कदम उठाने का प्रयास कर रही हैं।

इसी कड़ी में चीनी स्मार्टफोन निर्माता ने बुधवार को अपने फ्लैगशिप स्मार्टफोन लॉन्च इवेंट को रद्द कर दिया। अब इसकी जगह कंपनी ने 20 मिनट का एक प्री-रिकॉर्डेड वीडियो अपलोड किया है। वीडियो में कंपनी ने बताया है कि कोरोना महामारी के बीच वह कैसे भारतीय अथॉरिटीज के साथ मिलकर काम कर रही है। इधर CAIT  का कहना है कि वह दीपिका पादुकोण, विक्की कौशल, रनबीर कपूर, रनवीर सिंह, विराट कोहली, कटरीना कैफ और आमिर खान से संपर्क कर चीनी ब्रांड्स का एंडॉर्समेंट बंद कर देने का आग्रह करेगा। भारतीय सेलिब्रिटी द्वारा चीनी स्मार्टफोन की ब्रांडिंग की बात करें तो आमिर खान Vivo कपंनी को एंडॉर्स करते हैं।

” मेक इन इंडिया ” का हैशटैग  इस्तेमाल कर सकती हैं चीनी कंपनियां 

इस कंपनी ने एक्ट्रेस सारा अली खान को भी अपना चेहरा बनाया है। रनबीर कपूर Oppo को एंडोर्स करते हैं। इस कंपनी ने अपने Reno सीरीज के लिए कटरीना कैफ को साइन किया है। Xiaomi कंपनी के RedMi स्मार्ट फोन को रनवीर सिंह एंडॉर्स करते हैं। श्रद्धा कपूर और सलमान खान रियलमी को एंडॉर्स करते हैं। क्रिकेटर विराट कोहली iQoo को एंडोर्स करते हैं। iQoo चीनी कंपनी बीबीके इलेक्ट्रॉनिक्स का नया ब्रांड है। Vivo, Oppo, RealMe और One Plust भी इसी BBK इलेक्ट्रॉनिक्स की ही सब्सिडियरी कंपनियां हैं। Lenovo ने साल 2012 में ही रनबीर कपूर कोअपने साथ जोड़ा था जो कि अब तक जारी है। एक रिपोर्ट के मुताबिक कुछ चीनी कंपनियां ‘मेक इन ​इंडिया’ के हैशटैग का भी इस्तेमाल कर सकती हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here