पहला कारण है कि यहाँ पर खाना बनाया जाता है और दूसरा कि महिलाएँ अपना अधिकतर समय रसोई में व्यतित करती है । एक अन्य महत्त्वपूर्ण कारण यह है कि घर की यह वो जगह है जहाँ पर अग्नि तत्त्व स्थित है और इसलिए इस क्षेत्र को रूप-रेखा के अनुसार समझदारी से बनाना चाहिए ।  । रसोई घर के लिए वास्तु न केवल जगह तथा उपकरणों की दिशा के नियमों को निर्धारित करता है

  • आपके रसोई के उपकरण कैसे रखें हैं यह जाँच लें । अगर चुल्हा तथा वॉटर सिंक उचित जगह तथा दिशा में नहीं है तो इससे घर में लगातार झगड़े जारी रहेंगे क्योंकि यह दोनो अलग अलग तत्त्वों का प्रतिनिधित्व करते हैं और इन दोनों तत्त्वों को एक साथ रखने से घर में तनाव का कारण बनता है ।
  • चुल्हे का नॉब परिवार के मुख्य व्यक्ति की अनुकूल दिशा में रखा जाना चाहिए । इससे संपूर्ण परिवार के अच्छे स्वास्थ्य को सुनिश्चित करता है । सरल वास्तु आपकी अनुकूल दिशाओं को निर्धारित करने में मदद करता है ।
  • रसोई घर सीढ़ियों के पास नहीं होना चाहिए । उससे ऊर्जा का प्रवाह अवरोधित होता है ।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here