6
ज्योतिष शास्त्र या वैदिक ज्योतिष शास्त्र में 12 राशियाँ बताई गयी है | इन राशियों की मदद से इनके जातको के स्वाभाव, व्यक्तित्व और भविष्य को लेकर कई बाते बताई का सकती है | जातको के स्वभाव पर उनकी राशि के स्वामी ग्रह का भी बड़ा प्रभाव पड़ता है | ऐसे में आज हम आपको सभी राशियों के स्वामी ग्रह और राशियों के जातको के स्वभाव के बारे में आवश्यक बाते बताने जा रहे है | तो आइये जानते है आज की इस पोस्ट में आपके लिए क्या ख़ास है |
मेष
स्वामी ग्रह- मंगल
इस राशि के जातक बड़े ही स्वतंत्र विचारो के होते है | साथ ही इनमे पराक्रम और साहस भी खूब होता है | अपनी बात को दुसरो  के सामने बेबाकी से रखना इन्हे भलीभांति आता है | हालाँकि इन्हे गुस्सा जल्दी आ जाता है, कई बार तो ये आक्रामक भी हो जाते है |
वृष
स्वामी ग्रह- शुक्र
इस राशि के जातको का स्वभाव बड़ा ही शांत किस्म का होता है | इन्हे अपने दायित्वों और जिम्मेदारियों का भलीभांति अहसास होता है, जिस वजह से परिवार के भी चहेते होते है | वैसे धन संपत्ति और प्रसिद्धि पाने को लेकर ये काफी लालायित रहते है |
मिथुन
स्वामी ग्रह- बुध
ये वाककला में निपुण होते है | साथ ही इन्हे कई भाषाओ का ज्ञान होता है | कई बार इनके दो चेहरे देखने को मिलते है, जिस वजह से इन्हे समझना थोड़ा मुश्किल होता है |
कर्क
स्वामी राशि- चंद्र
ये जातक साफ़ दिल के और सच्चे मन के होते है | ये अपनों से प्रेम करते है | ये जातक कूटनीति बनाने में कमाल होते है | वैसे कई बार इनका अभिमानी स्वभाव भी देखने को मिलता है |
सिंह
स्वामी ग्रह- सूर्य
ये जातक सूर्य से प्रभावित होते है | इनमे नेतृत्व करने की क्षमता बचपन से ही होती है | ये साहस और ऊर्जा के धनी और राजा की तरह जीवन जीते है | घमंड और गुस्सा इनका नकारामक पक्ष होते है |
कन्या
स्वामी ग्रह- बुध
इन लोगो की सोच रूढ़िवादी और आलोचक होती है | कई बार इनका नकचढ़ा और बात का बतंगड़ बनाने वाला स्वभाव भी देखने को मिलता है | वैसे इनकी सोचे हुए काम को पूरा करने की खासियत कमाल की होती है |
तुला
स्वामी ग्रह- शुक्र
इस राशि के जातक आकर्षक किन्तु अंतर्मुखी होते है | इन लोगो को महंगी और ब्रांडेड चीजे काफी पसंद होती है | ये लोग वाद विवाद और बहसबाजी अक्सर मात खा जाते है |
वृश्चिक
स्वामी ग्रह- मंगल
ये जातक आकर्षक व्यक्तित्व के मालिक होते है | ये अपनी भावनाये छिपाकर रखते है, इसीलिए इन्हे समझना मुश्किल होता है | इनमे उत्साह और पराक्रम की भावना भी देखने को मिलती है |
धनु
स्वामी ग्रह- बृहस्पति
देवगुरु बृहस्पति की तरह ही ये जातक ज्ञानी होते है | इनमे ईमानदारी, सच्चाई, विश्वसनीयता और समझदारी से जैसी खूबियाँ होती है | कई बार इनका गुस्सैल और आक्रामक स्वभाव भी देखने को मिलता है |
मकर
स्वामी ग्रह- शनि
ये लोग बड़ी गहरी सोच रखते है | अपनी जिम्मेदारियों के प्रति पूरी तरह सजग रहते है | ये जिस काम को हाथ में लेते है, तो उसे पूरा करके ही दम लेते है | हालाँकि लोगो पर शक करने की इनकी बुरी आदत होती है |
कुम्भ
ये जातक धीमी चाल के किन्तु दयालु होते है | इनकी बुद्धिमानी, चतुराई और तार्किक क्षमता कमाल की होती है | ये अपनी वाणी से किसी को भी आसानी से दोस्त बना लेते है |
मीन
स्वामी ग्रह- बृहस्पति
ये जातक बहुमुखी प्रतिभा के धनी होते है | ये अपनी बात रखने और तर्क वितर्क करने में माहिर होते है | ये अपने करीबियों का बड़ा ख्याल रखते है |

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here