6

मेष राशि के जातक मां सरस्वती की आराधना के लिए सरस्वती कवच का पाठ करें। इससे आपको विद्या और सद्बुद्धि की प्राप्ति होगी। साथ ही भगवान हनुमान की भी पूजा कर उनके बाएं चरण का सिन्दूर लेकर अपने माथे पर तिलक करें और हनुमान चालीसा का पाठ करें।

वृषभ राशि के जातक इमली के 22 पत्ते लें, उसमें से 11 पत्ते मां सरस्वती के यंत्र या फिर उनके चित्र पर चढ़ाएं और बाकि 11 पत्ते अपने पास किसी सफेद वस्त्र में लपेटकर रख लें,  इससे आपको सफलता मिलेगी।

मिथुन राशि के जातक इस दिन देवी सरस्वती के साथ भगवान गणेश का भी यथा उपचार-पूजन करें..  यज्ञोपवीत चढ़ाएं और 21 दूर्वादल के अंकुर 21 बार ‘ॐ गं गणपतये नम:’ का जप कर चढ़ाएं।इससे आपको ज्ञान के क्षेत्र में यश की प्राप्ति होगी।

कर्क राशि के जातक माता सरस्वती के यंत्र या चित्र पर ‘ॐ ऐं सरस्वत्यै नम:’ जप कर आम के बौर चढ़ाएं और भोग के रूप में पीले रंग के चावल चढ़ाए।

सिंह राशि के जातक इस दिन मां सरस्वती की पूजा करने के साथ-साथ गायत्री माता के मंत्र का भी जाप करें… इससे शुभ फल प्राप्त होगें.. इसके लिए ‘ॐ ऐं नम:..’ गायत्री मंत्र ‘नमो ऐं ॐ’ से संपुटित कर जपें।

कन्या राशि के जातक वसंत पंचमी के दिन पुस्तक, ग्रंथ आदी का दान करें और ‘ॐ ऐं नम:’ का जप करें।

तुला राशि को लोगों के लिए इस दिन पुस्तक, ग्रंथ और सफेद वस्त्र किसी ब्राह्मण या कन्या को दान करना शुभ होगा .. उन्हें श्वेत मिठाई भी खिलाएं। इसके साथ ही ‘ॐ ऐं नम:’ का जप करें।

वृश्चिक राशि के जातक माता सरस्वती का पूजन कर उन्हें श्वेत रेशमी वस्त्र चढ़ाएं और कन्याओं को दूध से बनी मिठाई खिलाएं। इसेक साथ ‘ॐ ऐं सरस्वत्यै नम:’ का जप करें।

धनु राशि के जातक मां सरस्वती का पूजन करें तथा श्वेत चंदन चढ़ाएं और ये चंदन अपने माथे पर भी लगाएं इससे आपके ऊपर मां सरस्वती की कृपा हमेशा बनी रहेगी।

मकर राशि के जातक सूर्योदय के पहले ब्राह्मी नामक औषधि को ‘ॐ ऐं सरस्वत्यै नम:’ से मंत्रि‍त कर उसका सेवन करें .. ऐसा करना आपके लिए बेहद शुभ साबित होगा और सफलता आपके कदम चूमेगी।

कुंभ राशि के जातक इस दिन मां सरस्वती की पूजन कर कन्याओं को खीर खिलाएं और ‘ॐ ऐं नम:’ जपें।

मीन राशि को जातक देवी सरस्वती की कृपा प्राप्त करने के लिए कुंवारी कन्याओं को पीलें रंग के कपड़े और फल आदि भेंट करने चाहिए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here