वायरल हो रहे वीडियो में दुल्हन ने पहले दूल्हे को डंडे से वरमाला पहनाई. इसके बाद डॉक्टर दूल्हे ने दुल्हन को डंडे से वरमाला पहनाई. दरअसल लॉकडाउन के कारण शादी में सिर्फ कुछ ही लोगों को शामिल होने की इजाजत दी गई है, वो भी शर्तों के साथ, जिसमें सोशल डिस्टेंसिंग का खास ख्याल रखना है. इसी की एक मिसाल शनिवार को हुई धार के कुक्षी विधानसभा के गांव टेकी में शादी ने पेश की है. इस शादी का एक वीडियो लोगों का ध्यान अपनी खींच रहा है.

बता दें कि दुह्न का नाम भारती है, जिन्होंने अपने पति को वरमाला पहनाने के लिए एक लकड़ी का सहारा लिया. तो वहीं दूसरी तरफ से दूल्हे राजेश ने भी पत्नी को वरमाला पहनाने के लिए लकड़ी का सहारा लिया जिसे आप वीडियो में देख सकते हैं. इस दौरान दोनों ने ही गांव के हनुमान मंदिर में भगवान को साक्षी मानते हुए एक साथ रहने के वादे किए.

इस बारे में दुल्हन भारती मंडलोई के पिता जगदीश मंडलोई ने कहा कि, शादी से पहले ही हमने मंदिर को पूरे तरीके से सैनिटाइज किया था. इसके बाद ही दूल्हा और दुल्हन को मंदिर में लाकर शादी संपन्न करवाई गई. शादी की खास बात तो ये रही कि इस दौरान लॉकडाउन के एक भी नियम का उल्लंघन नहीं किया गया. जो लोगों के बीच एक सही और सटीक संदेश भेजता है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here