गोल्‍ड बॉन्ड की बिक्री बैंकों, डाकघरों, एनएसई और बीएसई के अलावा स्टॉक होल्डिंग कॉर्पोरेशन ऑफ इंडिया लिमिटेड के जरिए होती है. इस स्‍कीम का मकसद सोने की फिजिकल डिमांड को कम करना है.

रिजर्व बैंक ने पिछले महीने कहा था कि सरकार ने अगले 6 महीने में 6 बार सॉवरेन गोल्ड बॉन्ड जारी करने का फैसला किया है, मतलब ये कि आप अप्रैल से सितंबर के बीच 6 बार गोल्ड सॉवरेन बॉन्ड में पैसे लगा सकते हैं. आरबीआई हर महीने इस बॉन्ड की नई कीमत का ऐलान करेगा.

क्या है सोने की कीमत?

केंद्र सरकार की सॉवरेन बॉन्ड योजना के तहत सोने की कीमत 4,590 रुपये प्रति ग्राम तय की गई है. इसके अलावा डिजिटल माध्यम से भुगतान करने वाले निवेशकों को इस कीमत में 50 रुपये ग्राम की छूट मिलेगी. ऐसे निवेशकों के लिए सोने की कीमत 4,540 रुपये प्रति ग्राम होगी. ये कीमत रिजर्व बैंक तय करता है. आपको बता दें कि सोने को बॉन्ड के तौर पर ही खरीदा जा सकता है. इसके अलावा कम से कम एक ग्राम सोने की खरीदारी करनी होगी. इस योजना के तहत आप 11 मई से 15 मई 2020 तक खरीदारी कर सकते हैं.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here