न्यूजीलैंड दौरे की तैयारियों में जुटी भारतीय महिला वनडे टीम की कप्तान मिताली राज ने शनिवार को फिर से ध्यान क्रिकेट पर वापस लाने पर जोर दिया क्योंकि विश्व टी20 के विवादास्पद समापन के बाद टीम गलत कारणों से सुर्खियों में थी. हाल में कैरेबियाई सरजमीं पर हुए महिला विश्व टी20 में मिताली को इंग्लैंड के खिलाफ सेमीफाइनल में अंतिम एकादश में नहीं शामिल किया गया था, तब उनके और टीम के कोच रमेश पोवार के बीच मतभेदों की बात सामने आयी थी. इसके बाद दोनों ने बीसीसीआई को पत्र लिखे लेकिन ये पत्र लीक हो गए. 

चयनकर्ताओं ने मिताली पर भरोसा कायम रखते हुए उन्हें टी20 टीम में बरकरार रखा और अगले महीने न्यूजीलैंड के दौरे पर एकदिवसीय में उनकी कप्तानी बरकरार रखी. मिताली ने यहां एक कार्यक्रम के इतर कहा, ‘‘जिस तरह से घटनाएं हुई, निश्चित रूप से खेल के लिए अच्छी नहीं थीं. इससे हर किसी पर अलग अलग तरह का अलग तरीकों से असर पड़ा.’’ 

अब चीजें सही होने का भरोसा

मिताली ने कहा, ‘‘मुझे भरोसा है कि अब चीजें सही हो गई हैं और हमें खेल पर, खिलाड़ियों पर और टीम पर ज्यादा ध्यान देना चाहिए.’’ उन्होंने कहा, ‘‘मैं यही कह सकती हूं कि पिछले कुछ समय मेरे और मेरे परिवारवालों के लिए काफी तनावपूर्ण रहे. इससे निश्चित रूप से महिला क्रिकेट सुर्खियों में आ गया जिसकी जरूरत नहीं थी. जब आप टीम नहीं बल्कि क्रिकेट के इतर मुद्दों के बारे में बात करते हो तो ध्यान खेल से हट जाता है.’’ 
ज्यादा बदलाव नहीं हुए हैं टीमों में

मिताली ने कहा, ‘‘अब हमें न्यूजीलैंड का दौरा करना है, तो अब समय आगे बढ़ने का है. आगे बढ़ो तथा और अधिक सकारात्मक रहो.’’ भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) ने शुक्रवार को एक बयान जारी कर आगामी न्यूजीलैंड दौरे के लिए भारतीय महिला वनडे और टी-20 टीम का ऐलान किया है. दिल्ली की प्रिया पूनिया को खेल के सबसे छोटे प्रारूप के लिए भारतीय टीम में पहली बार जगह मिली है. वहीं, वनडे टीम में सिर्फ एक बदलाव हुआ है. वनडे टीम से वेदा कृष्णमूर्ति की छुट्टी हो गई है. उनके स्थान पर मोना मेश्राम को टीम में चुना गया है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here