आईपीएल नीलामी में वरुण चक्रवर्ती पर लगी आठ करोड़ 40 लाख की बोली ने सबको हैरान किया लेकिन किंग्स इलेवन पंजाब की सह मालिक प्रीति जिंटा ने तमिलनाडु के इस स्पिनर को ‘दीर्घकालीन निवेश’ और कप्तान रविचंद्रन अश्विन का ‘बैकअप’ करार दिया. आगामी सत्र में किंग्स इलेवन पंजाब की कमान अश्विन के हाथों में होने की पुष्टि करते हुए प्रीति ने वरुण के लिए इतनी भारी भरकम राशि खर्च करने का कारण बताया.

प्रीति ने कहा, “वरुण रहस्यमयी गेंदबाज है जो अधिक नहीं खेला है. इसके अलावा वह बैकअप स्पिनर है जो टीम को मजबूती देगा. किंग्स इलेवन पंजाब हमेशा से ऐसी प्रतिभा को मौका देना चाहता है जिसे अधिक खेलने का मौका नहीं मिला हो और वरुण हमारे लिए दीर्घकालीन निवेश है.” उन्होंने कहा, “मुझे लगता है कि कोच माइक हेसन के मार्गदर्शन में वह (वरुण) अपनी क्षमता में इजाफा कर पाएगा और टीम की सफलता में योगदान देगा.”

प्रीति को खुशी है कि किंग्स इलेवन की टीम उन खिलाड़ियों को अपने साथ जोड़ पाई जिनकी कमी प्रबंधन ने पिछले साल महसूस की थी. उन्होंने कहा, “हमने 2019 इंडियन प्रीमियर लीग के लिए काफी विचार विमर्श के बाद रणनीति बनाई. वह ऐसे खिलाड़ियों को चुनना चाहते थे जो कमियों को पूरा कर सकें और बेहतरीन टीम तैयार कर सकें.”

प्रभ सिमरन सिंह जैसे किशोर को रणजी ट्राफी खेले बिना ही डेढ़ करोड़ रुपये का अनुबंध मिला लेकिन प्रीति ने कहा कि अगर कोई प्रतिभावान है तो उसका समर्थन किया जाना चाहिए. आम चुनाव के साथ तारीखों के टकराव पर आईपीएल को दक्षिण अफ्रीका में स्थानांतरिक करने की संभावना पर प्रीति ने कहा कि उनकी टीम किसी भी चुनौती के लिए तैयार है.

उन्होंने कहा, “हम अतीत (2009 में दक्षिण अफ्रीका और 2014 में यूएई में) में इस तरह की स्थिति का सामना कर चुके हैं और आगामी सत्र में भी इसके लिए तैयार हैं.” प्रीति ने कहा कि टीम का संतुलन और संयोजन इस तरह का है कि वे भारत या किसी अन्य देश में समान क्षमता के साथ खेल सकते हैं और नतीजे दे सकते हैं.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here