पांच राज्यों में हुए विधानसभा चुनाव के परिणाम अभी आने मे एक दिन का फासला है लेकिन इससे पहले ही मोदी सरकार को एक बड़ा झटका लग गया है।

कभी केंद्रासीन मोदी सरकार को दूसरे कार्यकाल कि सिफारिश करने वाले मोदी सरकार के सहयोगी और मोदी सरकार के ही मंत्री उपेंद्र कुशवाहा ने अपना इस्तीफा प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को भेज दिया है। बता दें कि उपेंद्र कुशवाहा कि एनडीए गठबंधन में सीटों के बंटवारे में ताज्जुब नहीं दिया जा रहा था और इसी वजह से कुशवाहा कि एनडीए नेताओं के साथ तल्खी बढ़ रही थी।

कभी चंद्रवंशी का चावल और यादव की दूध का खीर बनाने वाले उपेंद्र कुशवाहा के बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार से संबंध अच्छे नहीं थे। वह लगातार नीतीश कुमार और बीजेपी के खिलाफ बयानबाजी कर रहे थे। बता दें कि उपेंद्र कुशवाहा के सबसे बड़े राजनीतिक विरोधी नीतीश कुमार को ही माना जाता है।

बरहाल सबसे खास बात आपको बता दें कि मंगलवार को पांच राज्यों के चुनावी नतीजे आने हैं, एग्जिट पोल में कांग्रेस को बढ़त मिलती दिख रही है. ऐसे में विपक्ष हमलावर है, एग्जिट पोल में बीजेपी की संभावित हार उनके साथियों को भी आवाज बुलंद करने की हिम्मत दे रही है। इसी के तरह एक दिन पूर्व ही उपेंद्र कुशवाहा ने एनडीए गठबंधन से अलग होना मुनासिब समझा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here