10

हिन्दू धर्म के पुराणों में अहम स्थान रखने वाले गरुण पुराण में बहुत सी ऐसी बातों का उल्लेख किया गया है जो मनुष्य के जीवन में होने वाले हानि लाभ के बारे में बताता है। गरुण पुराण में भगवान विष्णु का जिक्र किया गया है और कई ऐसे कार्यों को बताया गया है जो नहीं करना चाहिए। इसके एक श्लोक में महिलाओं को कुछ ऐसे आदतों से बचने के बारे में बताया गया है, जिसे अगर वह नहीं मानती तो उनका जीवन बर्बाद हो जाता है। ऐसे में अगर आप भी शादीशुदा है तो आपको भूलकर भी इन गलतियों को नहीं करना चाहिए।

पति से दूर न रहें

गरुड़ पुराण ने कहा गया है कि शादीशुदा महिलाओं को अपने पति से ज्यादा वक्त तक दूर नहीं रहना चाहिए। जो महिलाएं ऐसा करती हैं उनका पारिवारिक जीवन हमेशा दुखी रहता है इसलिए हर शादीशुदा महिला को अपने पति के साथ रहना चाहिए और उनका ध्यान रखना चाहिए और सम्मान करना चाहिए।

खराब चरित्र वालों से दोस्ती न करें

गरुड़ पुराण में कहा गया है की किसी भी व्यक्ति को कभी भी ऐसे इंसान से दोस्ती नहीं करनी चाहिए जिसका चरित्र अच्छा न हो। बुरे चरित्र वाले लोगों से दोस्ती करने से उसका असर आप पर भी पड़ेगा और आपका चरित्र भी खराब हो सकता है। गरुण पुराण के मुताबिक़ महिलाओं को केवल गृहस्थी पर ही केंद्रित रहना चाहिए।

किसी का अपमान न करें

गरुण पुराण में बताया गया है कि महिलाओं को हर व्यक्ति का सम्मान करना चाहिए। कभी भी किसी व्यक्ति से कठोर वचन नहीं बोलना चाहिए। छोटा हो या बड़ा हर किसी से अच्छे से बात करनी चाहिए। कभी भी किसी के लिए गलत शब्दों का इस्तेमाल नहीं करना चाहिए।

पराए घर में अधिक समय तक नहीं रुकना चाहिए

शादी के बाद महिला के पति का घर ही उसका घर होता है। ऐसे में महिलाओं को अधिकतर समय अपने घर पर ही रहना चाहिए। जो महिलायें दूसरों के घरों में जाकर रूकती हैं उनका उनके घर में मान सम्मान कम हो जाता है और परिवार के सदस्यों के साथ भी तनाव भी बढ़ जाता है। इसलिए बेहद ही जरूरी है कि महिलाएं शादी के बाद अपने घर में ही रहें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here