दरअसल ये पूरा मामला इंदौर के एरोड्रम थाना इलाके के अशोक नगर कॉलोनी का है।  जहां प्रीती निर्मल नाम की 27 वर्षीय युवती ने फांसी लगा कर आत्महत्या कर ली। प्रीती इंदौर के एक कार शो-रूम में एचआर हेड थी। बीते रविवार को प्रीति की विजय नगर के रहने वाले पवन मुर्रमकर नाम के युवक से सगाई हुई थी। इन दोनों की मुलाकात फ़रवरी माह में एक मैट्रिमोनीयल साइट के जरिए हुई थी। जल्द ही दोनों में गहरा प्यार हो गया था।

प्रीति की माँ चाहती थी शादी इसी माह के 26 जून को हो जाए। लेकिन पवन के घर वाले इस बात को लेकर राजी नहीं थे। उनका कहना था कि अभी हमारी कोई तैयारी नहीं हुई है। इसलिए यह शादी देवउठनी ग्यारस पर शादी करना चाहते थे। इस बात को लेकर प्रीति तनाव में आ गई थी। जिस पर मंगेतर पवन ने प्रीती को बहुत समझाया भी था, लेकिन उसका कहना था कि माँ नहीं मंनेंगी। प्रीति की माँ 26 जून को ही शादी करने पर जोर दे रही थी।

इतना ही नहीं खबरों के मुताबिक शादी की डेट को लेकर प्रीति की पवन की माँ और बहन से बहस हो गई थी।  पवन के घर वालो से फोन पर बात करने के बाद प्रीति बीते सोमवार दोपहर को तुलसी व पीपल का पौधा ले आई थी। घर वालों के पूछने पर प्रीती ने कहा कि वह अब कभी शादी नहीं करुँगी। बस इन्हीं की पूजा करुँगी।

यह कहते हुए वह अपने कमरे में चली गई, जिसके 5 मिनट बाद जब उसकी छोटी बहन पायल कमरे में गई तो प्रीति फांसी पर झूल रही थी। उसके पास से एक सुसाइड नोट भी मिला। प्रीति के कमरे से एक सोसाइट नोट मिला है जिसमें लिखा था – मेरे मरने में किसी का हाथ नहीं है। मैं अपनी इच्छा से मर रही हूँ, क्योंकि लाइफ बहुत गंदी है। डोंट ट्रस्ट ऐनी वन। पापा! मुझे माफ़ करना.. मैंने हर समय आपका खर्चा ही करवाया। फिलहाल पुलिस ने प्रीति के शव का पोस्टमार्टम करवा परिजनों को सौंप दिया है। वे आत्महत्या के कारणों का पता लगाने में लगी है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here