बस्ती : बस्ती सदर कोतवाली के मूड़घाट में बना संत कुटीर आश्रम 2017 में उस समय चर्चा में आया जब आश्रम में रह रही साधवियों ने बाबा सचिदानंद पर दुष्कर्म का आरोप लगाया था। पीड़िताओं की तहरीर पर बाबा सचिदानंद पर दुष्कर्म समेत अन्य गम्भीर धाराओं में मुकदमा दर्ज हुआ था। बाब सचिदानंद तब से फरार है अभी तक पुलिस बाबा को गिरफ्तार नहीं कर सकी है, आश्रम पर पुलिस ने कुर्की की कार्रवाई की थी। वहीं अब एक और साधवी ने एसपी को बाबा सचिदानंद के खिलाफ दुष्कर्म व अपहरण की तहरीर दी है।

पीड़िता का कहना है की बाबा ने उसके भाई का भी अपहरण कर लिया था, जिसके बाद मुझ पर मुकदमा सुलह करने का दबाव बनाया गया, अन्य पीड़ित साधवियों का कहना है की बाबा के आश्रम में जो साधवियां जाती थी। उनके साथ जबरन शोषण किया जाता था, 2017 में बाबा के खिलाफ मुकदमा दर्ज हुआ लेकिन पुलिस अभी तक बाब सचिदानंद को गिरफ्तार नहीं कर सकी है, पीड़ित साधवियों का कहना है की बाबा उपने सहयोगियों से दबाव बना रहा है, हमारे परिजनों पर फर्जी मुकदमे दर्ज करवा कर सुलह करने का दबाव बना रहा है।

वहीं आईजी आशुतोष कुमार का कहना है की बाबा के खिलाफ लालगंज थाना क्षेत्र की एक साधवी ने शारीरिक शोषण का आरोप लगाया है, पीड़िता की तहरीर पर मुकदमा दर्ज कर लिया गया है। इससे पहले 2017 में 4 साधवियों के शारीरीक शोषण के मामले में बाबा के खिलाफ मुकदमा दर्ज हुआ था, जिसमें बाबा वांछित चल रहा है। इंसपेक्टर कोतवाली को निर्देश दिया गया है की बाबा को गिरफ्तार कर जांच पड़ताल की जाए, बाबा को गिरफ्तार करने के लिए फिर से टीम लगाई जाएगी, जल्द ही बाबा की गिरफ्तारी होगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here