सामने वाले की बात कितनी सच कितनी झूठ, ऐसे लगाएं पता :- इंसान के पास दिमाग एक ऐसा औजार है जो अच्छे अच्छों को मात दे सकता है। पूरे मानव शरीर पर दिमाग का ही नियंत्रण होता है। सही गलत, अच्छे बुरे की पहचान भी दिमाग से ही होती है।

पांचवी 7वीं 8वीं 12वीं पास के लिए गवर्नमेंट सेक्टर में जबरदस्त भर्तियां अभी करें आवेदन

प्राइवेट सेक्टर में निकली है बंपर भर्ती विभिन्न पदों पर जल्दी करें आवेदन

साथ ही दिमाग मानव की हर हरकत पर छोटे छोटे इशारे देता है, जिन्हें हम अनदेखा कर देते हैं या यूं कहें कि ये इशारे हमारी समझ से परे हैं। कुछ ऐसा ही इशारा, दिमाग सच और झूठ के बीच फ़र्क करने के लिए करता है।

हमारा दिमाग दो हिस्सो में विभाजित होता है। जिन्हें राईट ब्रेन और लेफ्ट ब्रेन के नाम से जाना जाता है। राईट ब्रेन वो होता है जिसमें सब कुछ नया आता रहता है। यानी सारे नए आइडिया राईट ब्रेन में आते है। वहीं लेफ्ट ब्रेन याद रखने वाला होता है। आपके जीवन की सभी यादें लेफ्ट ब्रेन में समाहित होती है।

कैसे पता करें, सामने वाला सच बोल रहा है जा झूठ

जैसा कि मैंने आपको बताया की राईट ब्रेन में सब कुछ नया आता है। ऐसे में अगर कोई आपके सामने कुछ बात कह रहा है और बार-बार उसकी आंखे राईट की तरफ इशारा कर रही हैं, तो इसका मतलब है कि सामने वाला झूठ बोल रहा है। वो इंसान आपके सामने ही अपने दिमाग में नई-नई बातें बना रहा है।

वहीं अगर उस इंसान की आंखे बार-बार लेफ्ट की तरफ इशारा कर रही है तो वह सच बोल रहा है, क्योंकि लेफ्ट ब्रेन में यादें बसी होती है तो वह इंसान बार-बार अपने दिमाग में उन घटाओं को दोरहा कर याद करने की कोशिश कर रहा है। जो उसके साथ सच में घटी हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here