बस इस तरह से करना होगा जाप :- जब व्यक्ति की आर्थिक स्थिति सही नहीं चल रही होती तब उसे कर्ज लेना पड़ता है और कई बार ऐसा होता है कि बैंक या किसी व्यक्ति से लिए गए लोन को वह चुका नहीं पाता. लेकिन क्या आप जानते हैं इस स्थिति के पीछे ग्रह और नक्षत्र महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं. शास्त्रों और पुराणों में ऐसी कई चीजें बताई गयी हैं जिन्हें अपनाकर आप इस तरह की परेशानी से मुक्ति पा सकते हैं. शास्त्रों में ऐसे कई मंत्र बताये गए हैं जो आपको इस परेशानी से मुक्ति दिलाते हैं. इन मंत्रों से नकारात्मकता दूर होती है और और आप अपने कर्ज से मुक्ति पा सकते हैं. कौन से हैं वो चमत्कारी मंत्र आईये जानते हैं.

कर्ज से मुक्ति पाना चाहते हैं तो करें ये 5 काम

* श्री लक्ष्मी गायत्री मंत्र “ओम ह्रीं महालक्ष्मी च विद्महे विष्‍णुपत्नीं च धीमहि तन्नो लक्ष्मीः प्रचोदयात् ह्रीं ओम” का जप कर्ज से छुटकारा पाने के लिए बहुत लाभकारी माना गया है. इस मंत्र को कुछ इस तरह से जप करना है. इसके लिए व्यक्ति को कमलगट्टे की माला से रोजाना 1008 बार इस मंत्र का जप करना चाहिए, तब जाकर कुछ दिनों में असर दिखाई देना शुरू होता है.
* मंत्र “ओम आं ह्रीं क्रौं श्रीं श्रियै नमः ममालक्ष्मीं नाशय ममृणोत्तीर्णं कुरु कुरु संपदं वर्धय स्वाहा” का 44 दिनों तक 10 हजार बार जप करने से व्यक्ति को कर्ज/लोन से मुक्ति मिल जाती है, साथ ही धन लाभ भी होता है.
* यदि आप ऋण मुक्ति चाहते हैं तो इसके लिए रोजाना ऋण मुक्ति गणेश स्तोत्र का पाठ लाभकारी है. अपने सुविधा अनुसार इसका पाठ कभी भी करें, कुछ ही दिनों में असर दिखने लगेगा.
* ऋण मोचक मंगल स्तोत्र का पाठ हर मंगलवार करने से ऋण से मुक्ति मिल जाती है. यदि आप नियमित रूप से हनुमान चालीसा का पाठ करेंगे तो भी आपको सभी तरह के कर्ज से जल्द छुटकारा मिल जाएगा.
* धन बाधा दूर करने के लिए शंकराचार्य द्वारा रचित कनकधारा स्तोत्र को काफी लाभकारी माना गया है. ऋण मुक्ति चाहते हैं तो नियमित रूप से इसका पाठ करें. कुछ ही दिनों में फायदा महसूस होगा

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here