उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को हनुमानजी को दलित एवं वंचित बताने पर सर्व ब्राह्मण महासभा ने नोटिस भेजकर चेतावनी दी है कि इस मामले में माफी नहीं मांगी तो कानूनी कार्यवाही की जायेगी।

महासभा के राष्ट्रीय अध्यक्ष पंडित सुरेश मिश्रा ने योगी आदित्यनाथ को कानूनी नोटिस भेजकर कहा कि हनुमानजी महाराज को वंचित और लोक देवता चुनावी सभा में बताया गया है, जबकि हनुमानजी पूरे विश्व में पूजे जाते है न कि केवल किसी विशेष क्षेत्र में। हनुमानजी को लोक देवता एवं वंचित बताना उनका अपमान है।

उन्होंने कहा कि बजरंगबली का अपमान होने से करोड़ों देशवासियों की भावना आहत हुई है। योगी को इसके लिये तुरंत माफी मांगनी चाहिए। तीन दिन में मांफी नहीं मांगने पर पर कानूनी कार्यवाही की जायेगी।

उल्लेखनीय है कि योगी आदित्यनाथ मंगलवार को अलवर जिले के मालाखेड़ा में एक चुनावी सभा में कहा था कि बजरंगबली ऐसे लोकदेवता है जो स्वयं वनवासी है, दलित एवं वंचित हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here