6

घटना भदोही (Bhadohi) जिले के गोपीगंज कोतवाली क्षेत्र की है। यहां के चकराजाराम तिवारीपुर की रहने वाली एक दलित लड़की (Dalit girl ) जिसकी उम्र मात्र 14 साल की थी। दोपहर के वक्त खेतों की तरफ गयी थी, लेकिन काफी देर तक वापस नहीं लौटी तो परिजनों को चिंता हुई और वह उसे ढूढ़ने के लिए खेतों की तरफ गये,जहां खेतों के पास खून से सनी उसकी लाश पड़ी थी। पत्थरों से उसका सिर बुरी तरीके से कुचला गया। परिजनों ने आशंका जताई कि उनकी बेटी के साथ पहले बलात्कार किया गया फिर पत्थरों से कुचल कर उसकी हत्या कर दी गयी।

पुलिस फूंक-फूंक कर रख रही कदम 

घटना की सूचना मिलते ही भारी पुलिस बल मौके पर पहुंच गया और जांच पड़ताल शुरू कर दी। फॉरेंसिक एक्सपर्ट और क्राइम ब्रांच की टीम को भी मौके पर जांच के लिए बुलाया गया है। घटना से पूरे इलाके में रोष है। हालांकि पुलिस इस मामले में फूंक-फूंक कर कदम रख रही है क्योंकि इसके पहले हाथरस और बलरामपुर में हुई घटना को लेकर पुलिस की कार्यशैली पर उंगली उठ चुकी है।  घटना की संबंध के पुलिस अधीक्षक रामबदन सिंह का कहना है कि पुलिस रेप और अन्य बिन्दुओं पर पड़ताल कर रही है। हालांकि नाबालिग के साथ रेप हुआ है या नहीं इसका इसका पता पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने का बाद ही चल पायेगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here