3

कोरोना महामारी से आज पूरा देश महा संकट में है। ना जाने कितनों के अपने अपनों से बिछड़ रहे हैं। ऑक्सीजन की कमी से जाने कितनों ने अपनी जान गवाई है। ऐसा ही एक मामला सामने आया है। जब एक भाई के सामने ही उसकी बहन ने तड़प तड़प कर दम तोड़ दिया और वह चाहकर भी कुछ ना कर सका। बहन की जान किसी तरह से बच जाए। इसके लिए वह उसे ऑटो में बिठाकर जयपुर के कई अस्पतालों के चक्कर लगाता रहा लेकिन हर जगह से उसे एक ही जवाब मिला बेड खाली है। ऑक्सीजन भी खत्म हो गई। ऐसे में वह अपनी बहन की जान बचाता तो कैसे उसे मरती हालत में कैसे छोड़ देता।

भाई के सामने बहन की सांसें फूल रही थी वह तड़प रही थी उसे ऑक्सीजन की जरूरत थी उसकी जान बचाने के लिए ऑक्सीजन एक संजीवनी बूटी की तरह थी लेकिन भाई कुछ ना कर सका। बहन को बचाने के लिए वाह सवाई मानसिंह हॉस्पिटल तक पहुंच गया। लेकिन इसे वहां मौजूद पुलिस वालों ने अंदर नहीं जाने दिया। उन पुलिस वालों से भी वह महिला हाथ जोड़कर विनती करने लगी कि कोई तो उसे ऑक्सीजन दे दे। हालांकि पूरी तरह से कमजोर हो चुका सरकारी सिस्टम बहरा होने के साथ-साथ अंधा भी हो चुका था। यह महिला अस्पताल के बाहर तड़प तड़प कर जान दे दी। लेकिन उसे कोई ऑक्सीजन ना दे सका।

बहन ने जब भाई की कलाई पर राखी बांधी होगी, तो बदले में उसने भी उसकी रक्षा का वादा किया होगा। लेकिन आज वह बहुत मजबूर है वह चाह के भी अपनी बहन को नहीं बचा सका। अगर हॉस्पिटल वाले उसे एडमिट कर लेते तो आज उसकी बहन बच गई होती। उसे एक ही बात का दुख है कि वह अपनी बहन की जान बचाने के लिए कुछ ना कर सका। हॉस्पिटल के बाहर पहुंच कर भी उसी को ईलाज ना मिला। बहन तड़पती रही भाई घर बुलाता रहा। लेकिन किसी के हाथ मदद के लिए नहीं बढ़े।

भाई मैं दुखी मन से कहा कि कहां हो सीएम कहां चले गए हेल्थ मिनिस्टर आखिर किस वजह से डॉक्टरों ने अंदर नहीं जाने दिया। और महिला को यूं ही तड़पता छोड़ दिया। इसके दो छोटे-छोटे बच्चे हैं उनका क्या होगा। जिस तरह जिंदगी आगे चलेगी। उनकी इस महिला की मौत की सबसे बड़ी वजह रही होगी। गरीबी आज अगर उसके पास भी पैसा होता तो इसे जरूर इलाज मिल गया। होता लेकिन किसी गरीब की मौत से ना सरकार को फर्क पड़ता है। और ना ही सिस्टम को फर्क पड़ता है तो सिर्फ उनके अपनों को। सरकार के लिए मरने वालों के आंकड़ों में एक और नाम जुड़ गया।
अस्पताल के बाहर महिला की मौत का यह वीडियो अब सोशल मीडिया पर बहुत तेजी से वायरल हो रहा है। लोग सरकार की थू थू कर रहा है। सरकार को इससे कोई फर्क नहीं पड़ता। क्योंकि इस तरह तो ना जाने कितने लोग मर रहे हैं। सरकार को योजनाएं और मीटिंग करने से फुर्सत नहीं मिल रही।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here