4

उत्तर प्रदेश में कोरोना महामारी के फैलाव और मृतकों के बढ़ती संख्या को देखते हुए सरकार ने हाईस्कूल और इंटर की बोर्ड की परीक्षाएं 20 मई तक के लिए टाल दी है। वहीं यूनिवर्सिटी की भी परीक्षाएं 15 मई तक के लिए स्थगित कर दी गयी हैं। यह जानकारी रुहेलखंड विश्वविद्यालय के दीक्षांत समारोह में बतौर मुख्य अतिथि उपस्थित डिप्टी सीएम दिनेश शर्मा ने दी।

उन्होंने कहा यह फैसला प्रदेश में कोविड-19 के बढ़ते संक्रमण को देखते हुए सीएम योगी आदित्यनाथ की अध्यक्षता में हुई मीटिंग में लिया गया। इससे पहले उप मुख्यमंत्री डॉ दिनेश शर्मा ने गत बुधवार को कहा था कि उत्तर प्रदेश में बोर्ड की परीक्षाओं के लिए तारीखों पर जल्द फैसला लिया जाएगा। उप मुख्यमंत्री ने कहा कोरोना संक्रमण से उपजे हालात का आंकलन समय-समय पर किया जा रहा है। उन्होंने कहा बोर्ड परीक्षाओं से जुड़े 19 अधिकारियों में से 17 अधिकारी कोरोना संक्रमित हैं।

नया टाइम टेबल जारी होगा

ज्ञात हो कि यूपी में बोर्ड परीक्षाएं आठ मई से शुरू होनी थी, 10वीं की परीक्षा 12 कार्य दिवसों यानि की 25 मई को समाप्त होनी थी जबकि 12वीं की परीक्षा 18 कार्यदिवसों में यानी 28 मई को संपन्न होगी, लेकिन अब बोर्ड प्रदेश में कोविड-19 के हालात की समीक्षा के बाद नया टाइम टेबल जारी करेगा।

2021 की परीक्षा के लिए पंजीकृत छात्र-छात्राएं

हाईस्कूल
1674022 बालक
1320290 बालिकाएं
योग 2994312

इंटरमीडिएट
1473771 बालक
1135730 बालिकाएं
योग – 2609501

महायोग: 5603813

बता दें कि प्रदेश में यूपी बोर्ड की परीक्षाएं दूसरी बार टालीं गई हैं। पहले पंचायत चुनाव के चलते परीक्षाओं को टाला गया था और अब कोरोना महामारी की वजह से बोर्ड एक्जाम की तारीख आगे बढ़ाई गयी है। सबसे पहले यूपी बोर्ड की परीक्षाओं का आयोजन 24 अप्रैल से होना था लेकिन पंचायत चुनाव के कारण एग्जाम टाइम टेबल आगे बढ़ाया गया था और परीक्षा की तिथि 8 मई से निर्धारित की गई थीं। अब कोरोना संक्रमण की वजह से इसे एक बार फिर से टालना पड़ा है। गौरतलब है कि उत्तर प्रदेश में बुधवार को कोरोना के 20,510 नए मामले दर्ज किये गए। इसमें से अकेले लखनऊ में 5,433 मामले हैं। राज्य में अभी भी 1,11,835 सक्रिय मामले हैं। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ भी कोरोना पॉजिटिव हो गए हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here