9

मध्यप्रदेश दतिया जिले में स्थित मां पीतांबरा पीठ देश ही नहीं बल्कि दुनिया में प्रसिद्ध है। यहां आम दिनों में भी सैकड़ों भक्तों की भीड़ रहती है। वहीं जब शनिवार को मां धूमावती की आरती होती है तब तो देश भर के हजारों भक्त मौजूद होते हैं। सरकार बनाने कामनाएं हो या फिर बिगाड़ने की तमाम नेतागण यहां कर शीश झुकाते हैं और तांत्रिक अनुष्ठान कराते हैं।यहां अनुष्ठान कराने वालों को उसका असर भी तुरंत दिखने लगता है।

अब चूंकि चीन एक बार सीमा युद्ध की तैयारी कर रहा। वह लगातार बॉर्डर पर हिंसा को बढ़ावा देने वाला माहौल बना रहा है। ऐसे में 1962 हुए भारत चीन युद्ध की याद आ गयी और यह भी याद आ गया कि तत्कालीन प्रधानमन्त्री पंडित जवाहर लाल नेहरु ने युद्ध जितने के लिए मां पीतांबरा पीठ में आकार तन्त्र साधना कराई थी।bhart chinaमाना जाता है कि दतिया स्थित पीतांबरा पीठ पर हुए तांत्रिक अनुष्ठान असर ही था की अनुष्ठान होते ही चीनी सेना पीछे हटने लगी थी। गौरतलब है कि 1962 के युद्ध में एक बार चीन की सेना भारतीय सैनिकों पर हावी होने लगी थी, तब तत्कालीन प्रधानमंत्री जवाहरलाल नेहरू को पीतांबरा पीठ का ध्यान आया। उन्होंने विराजी मां बगलामुखी के मंदिर में 51 कुंडीय महायज्ञ कराया। इसके बाद युद्ध के 11वें दिन चीनी सेना पीछे हट गई। यहां 1962 के समय यज्ञ के लिए बनाई गई यज्ञशाला आज भी मौजूद है।

बता दें कि पीतांबरा पीठ की स्थापना स्वामीजी महाराज ने साल 1935 में कराई थी। यह पीठ उनके तप की गवाह है।यहां देश के तमाम बड़े नेता समय-समयपर पूजा अर्चना करने आते रहते हैं।CM-Pitambara-Pith4 shivraj singhमप्र के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान अपनी पत्नी साधना सिंह के साथ वनखंडेश्वर शिवलिंग पर पूजा करते हुए।pitambara-peeth-datia-amit-shahपीठ में विराजी मां बगुलामुखी के दर्शन एक छोटी-सी खिड़की के जरिये होते हैं। तस्वीर में केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह मां के दर्शन करते हुए।yogi-adityanathयूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ वनखंडेश्वर शिवलिंग के दर्शन करते हुए।rahul gandhiवनखंडेश्वर शिवलिंग पर पूजा-अर्चना करते हुए राहुल गांधी। साथ में हैं बायें से पूर्व केंद्रीय मंत्री सुरेश पचौरी, ज्योतिरादित्य सिंधिया और कमलनाथ।pitambara-peeth-in-datia (3)पूर्व राष्ट्रपति स्व. प्रणब मुखर्जी और राजस्थान की पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे सिंधिया मां के दरबार में।pitambara-peeth-in-datia (1)

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here