5
राहु केतु और शनि ज्योतिष शास्त्र के ऐसे ग्रह है, जिनका सुनकर ही लोग भय खाने लगते है | क्योंकि इन ग्रहो का प्रभाव अशुभ माना जाता है और जीवन में परेशानियों का जनक माना जाता है | हालाँकि कई बार इन ग्रहो के शुभ प्रभाव भी देखने को मिलते है, जो की बहुत ही कम होता है | इस समय राहु वृषभ राशि में गोचर कर रहा है | जानकारी के लिए बता दे राहु वृषभ राशि का स्वामी है और वर्ष 2021 में राहु वृषभ राशि में ही रहेगा | ऐसे में सभी राशियों पर इसका कुछ ना कुछ प्रभाव अवश्य पड़ेगा | आज हम आपको सभी राशियों पर पड़ने वाले इसके प्रभाव के बारे में बताने जा रहे है |
मेष
राशि के द्वितीय भाव में राहु आपके स्वास्थ्य को प्रभावित कर सकता है | परिवार में अनबन हो सकती है, आपको अपने गुस्से पर काबू रखना होगा | आर्थिक स्थिति को लेकर शुभ समाचार मिलेंगे |
वृषभ
राहु इसी राशि में गोचर कर रहा है, ऐसे में कई बार आपकी बुद्धि भ्रमित होगी | आलस बढ़ेगा और गले की समस्या हो सकती है |  हालाँकि रोजगार की दिशा में किये गए आपके प्रयास सफल होंगे |
मिथुन
राशि से बारहवें भाव में गोचर कर रहे राहु के चलते आपको खूब भागदौड़ करनी पड़ेगी | सामान चोरी होने की सम्भावना है, साथ ही अधिक खर्चो के चलते आर्थिक तंगी से गुजरना पड़ सकता है |
कर्क
राशि से लाभ भाव में राहु आपको जीवन के खट्टे मीठे अनुभव करवाएगा | आय के स्त्रोत बढ़ेंगे और शत्रु दूर रहेंगे | वैसे परिवार के बड़ो से मतभेद ना बढ़ने दे | छात्रों के लिए समय शुभ है |
सिंह
राशि से दशम भाव में राहु के चलते कई अप्रत्याशित परिणाम मिलेंगे | नौकरीपेशा जातक उच्चाधिकारियों से संबंध बिगड़ने ना दे | चुनाव से जुड़े निर्णयों में सफल होंगे |
कन्या
राशि से भाग्य भाव में राहु आपको अच्छे परिणाम दिलाएगा | नव दम्पतियों को संतान प्राप्ति हो सकती है | धर्म और आध्यात्म में उदासीनता ना पनपने दे |
तुला
राशि से अष्टम भाव में राहु के चलते आपको उतार चढ़ाव का सामना करना पड़ेगा | गले और पेट से जुड़े विकार घेर सकते है, सावधान रहे | कार्य सम्पन्न कर सीधे घर जाए |
वृश्चिक
राशि से सांतवे भाव में गोचर कर रहे राहु के चलते विवाह में रुकावट आ सकती है | दाम्पत्य जीवन में कड़वाहट आ सकती है | सरकार द्वारा टेंडर को हासिल करने में सफलता मिलेगी |
धनु
राशि से छठे भाव में राहु है | आपको स्वास्थ्य पर ध्यान देना होगा | कोर्ट कचहरी के मामलो में सफलता मिलेगी | विद्यार्थियों को प्रतियोगिताओ में सफलता मिलेगी |
मकर
राशि से पंचम भाव में राहु संतान से जुडी चिंताए बढ़ा सकते है | विद्यार्थी गलत संगति से दूर रहे, करियर प्रभावित हो सकता है | नया व्यापार आरम्भ करने के लिए समय शुभ है |
कुम्भ
राशि से चतुर्थ भाव में गोचर कर रहा राहु आपको उतार चढाव का अनुभव करवाएगा | पारिवारिक कलह का सामना करना पड़ सकता है | जमीन जायदाद के मामलो का निपटारा होगा |
मीन
मीन राशि के पराक्रम भाव में राहु किसी वरदान के समान है | कार्यो को सराहना मिलेगी, पहचान मिलेगी | कामकाज में मनचाही सफलता मिलेगी | हालाँकि परिवार में सदस्यों में अलगाववाद की स्थिति पैदा ना होने दे |

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here