जानकारी के मुताबिक साल 2018 के अक्टूबर महीने की 3 तारीख को पता चला कि ऋषि कपूर को कैंसर है. इस बारे में उनके भाई रणधीर कपूर ने पुष्टि की थी. इसके बाद ऋषि कपूर अपना इलाज करवाने न्यूयॉर्क चले गए थे. करीब 1 साल तक इलाज करवाने के बाद वो भारत वापस लौटे थे.

जब लोगों को पता चला कि ऋषि कपूर कैंसर के इलाज के बाद वापस आ गए हैं तो मुंबई में उनका धमाकेदार स्वागत भी किया गया था. लेकिन असल में वजह ये थी कि अमेरिका से ऋषि कपूर वापस तो आ गए थे लेकिन उनका इलाज अमेरिका में चल रहा था वो पूरी तरह से स्वस्थ नहीं हुए थे. कई बार उनकी तबीयत बिगड़ने के बाद उन्हें अस्पताल में भर्ती भी करवाया गया था. लेकिन ठीक होने के बाद उन्हें छुट्टी दे दी जाती थी.

हाल ही में उनकी तबीयत अचानक फिर बिगड़ी तो उन्हें बुधवार को मुंबई के सर एच.एन. रिलायंस फाउंडेशन अस्पताल में एडमिट कराया गया था. इस बारे में भी उनके भाई ने ही जानकारी दी थी, साथ ही उन्होंने उस दौरान ये भी कहा था कि अभी एक्टर की हालत स्थिर है.

लेकिन सुबह 8 बजकर 45 मिनट पर ऋषि कपूर ने अस्पताल में आखिरी सांस ली. बताया जा रहा है कि ऋषि कपूर ने दो साल तक ल्यूकेमिया से जंग जारी रखी थी. हालांकि इससे पहले बुद्धवार को भी देश ने एक बड़े अभिनेता इरफान खान खो दिया था. ये तड़प लोगों के दिल से बुझी भी नहीं थी कि ऋषि कपूर के रूप में फिल्मी जगत को एक बड़ा झटका लग गया. 67 साल की उम्र में दिग्गज अभिनेता कपूर ने दुनिया को अलविदा कह दिया.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here