10

एक पोर्टल की खबर के मुताबिक एक रिपोर्ट में कहा गया है कि हैदराबाद के चेस्ट और किंग कोटि अस्पतालों के डॉक्टरों ने खुलासा किया है कि जिन लोगों में ये नए लक्षण सामने आ रहे हैं उनके उपचार की प्रक्रिया में काफी लंबी हो रही है।

ये हैं नए लक्षण

  • आंख आना
  • उलटी अथवा मितली
  • दस्त लगना

डॉक्टरों का यह है तर्क

कोरोना के नए लक्षणों पर डॉक्टरों का कहना है कि इसका पता लगाने के बाद सटीक उपचार खोजना हमारी पहली प्राथमिकता है। डॉक्टरों ने कहा, हम लगातार ऐसे लोगों के स्वास्थ्य की जांच कर रहे हैं, जो नए लक्षणों से ग्रसित हैं। डॉक्टरों के मुताबिक कोरोना के सामान्य लक्षण- खांसी, बुखार और सांस फूलना है। लेकिन अब इसके नए लक्षण डॉक्टरों को भी भ्रमित कर रहे हैं। डॉक्टरों के अनुसार कोरोना वायरस अपने अस्तित्व को कायम रखने के लिए मौसम के अनुसार अपनी जीनोमिक संरचना को ढाल रहा है। यही वजह है कि मौसम के मुताबिक इस बीमारी के लक्षण भी बदलते देखें जा रहे हैं।

वायरस ने बदला संक्रमण का तरीका

एक सीनियर डॉक्टर ने खुलासा करते हुए लिखा है कि नए मामले फूड प्वाइजनिंग और पेट खराब होने की वजह से मौसमी बदलाव के कारण सामने आ रहे हैं, लेकिन ये वायरस अब फेफड़ों की जगह अब गैस्ट्रो-आंत्र पथ पर हमला बोल रहा है। इस तरह के अब तक कई मामले सामने आया चुके हैं। डॉक्टर ने आगे लिखा कि डिहाइड्रेशन के कारण गंभीर दस्त और उल्टी सामान्य बात है अधिकत्तर लोग इसे डिहाइड्रेशन समझ कर नजरअंदाज कर दे रहे हैं। अगर कोई व्यक्ति इस स्थिति से गुजर रहा है तो उसे, कमजोरी, कम बीपी, ऑक्सीजन का स्तर घटना, कम शुगर और अचानक बेहोश भी होने की शिकायत हो सकती है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here