12
केरल से एक मामला सामने आया है | जिसके अनुसार एर्नाकुलम के अस्पताल के बाहर एक फोटोग्राफर पुलिस की कार्यवाही के लिए शव की तस्वीरें ले रहा था | तभी उसे कुछ आवाज आयी, फिर उसने गौर से सुना तो वह आवाज मृत पड़े व्यक्ति के मुंह से आ रही थी | इसके बाद उसने तुरंत पुलिस को व्यक्ति के जीवित होने की सूचना दी और व्यक्ति को ICU में भर्ती कराया गया |
फोटोग्राफर टॉमी थॉमस को एर्नाकुलम के कालामस्सेरी इलाके की एडाथाला पुलिस ने एक मृत व्यक्ति की फोटोज खींचने के लिए बुलाया था | जानकारी के अनुसार जिस व्यक्ति को मृत समझा जा रहा था, उसका नाम सिवादासन है | सिवादासन को पुलिस ने पहले ही मृत समझ लिया था |
टॉमी जब सिवादासन की तस्वीर खींचने नजदीक गए तो उन्हें कुछ सिवादासन के मुंह से आवाज सुनाई दी | फिर उन्होंने इसकी सूचना सीधे पुलिस को दी और फिर पुलिस ने सिवादासन को त्रिसूर के जुबली मिशन अस्पताल में भर्ती कराया |
जानकारी के अनुसार सिवादासन इस समय ICU में है और उनका इलाज चल रहा है | डॉक्टर्स ने कहा कि यदि टॉमी ने सिवादासन की आवाज नहीं सुनी होती तो अब तक उसकी मृत्यु हो चुकी होती |
रिपोर्ट के अनुसार सिवादासन कालामस्सेरी में किराये के मकान में रहते है | रविवार के दिन उनसे मिलने कोई आया था, उसने सिवादासन को जमीन पड़े देखा और उन्हें मृत समझ लिया और पुलिस को सूचना दे दी | इसके बाद पुलिस ने भी उन्हें मृत समझ लिया |
टॉमी ने बताया कि वे पिछले 25 सालो से पुलिस के लिए काम कर रहे है | उन्होंने बताया कि सिवादासन मुंह के बल गिरे हुए थे, बिस्तर से टकराने की वजह से उनके सिर से खून बह रहा था | उनके कमरे में रौशनी में भी पर्याप्त नहीं थी | जब वे ब्लब जलाने के लिए सिवादासन की तरफ झुके तो उन्हें दो बार सिवादासन के मुँह से आवाज आयी, जैसी सोते समय आती है | इसके बाद उन्होने तुरंत पुलिस को सिवादासन के जिन्दा होने की सूचना दी |
इसके बाद पुलिस ने सिवदासन की धड़कन सुनी और तुरंत अस्पताल पहुंचाया | अस्पताल में डॉक्टर्स ने बताया कि हाई ब्लड प्रेशर के चलते आये अटैक के चलते सिवादासन गिर पड़े थे | उन्हें हल्की चोट आयी हैं, लेकिन अब वे एकदम ठीक है |

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here