10
हिन्दू धर्म में सावन माह का बड़ा महत्व है | इस माह को महादेव का माह कहा जाता है, क्योंकि इस महीने में सृष्टि का संचालन महादेव स्वयं करते है | सावन माह के शुक्ल पक्ष को आने वाली तृतीया को हरियाली तीज कहा जाता है | इस त्यौहार को बड़े ही धूमधाम से मनाया जाता है | सुहागन महिलाये इस त्यौहार का इन्तजार बेसब्री से करती है | इस वर्ष ये हरियाली तीज का त्यौहार 23 जुलाई 2020 को मनाया जा रहा है |
इस दिन महिलाये महादेव और देवी पारवती की पूजा अर्चना करती है और झूला झूलती है | आज हम आपको हरियाली तीज से जुड़े कुछ उपायों के बारे में जानकारी देने जा रहे है | जिनको यदि सुहागन महिलाये करती है, तो उनके जीवन में नयी खुशहाली का संचार होता है और महादेव और माता पार्वती की कृपा प्राप्त होती है |
  • हरियाली तीज के दिन पति पत्नी को सुबह जल्दी स्नान करना चाहिए और शिव मंदिर में महादेव और माता पार्वती को पुष्प अर्पित करने चाहिए |
  • हरियाली तीज के दिन महिलाओ को हरे रंग के वस्त्र धारण करने चाहिए |
  • हरियाली तीज पर 11 नवविवाहित लड़कियों को श्रंगार की सामग्री जैसे चूड़ी, सिन्दूर, काजल, मेहँदी और लाल चुनरी उपहार स्वरूप देनी चाहिए |
  • हरियाली तीज के दिन सुहागन महिलाये केसर युक्त दूध से माँ पार्वती का अभिषेक करे तो शुभ फल की प्राप्ति होती है |
  • हरियाली तीज के दिन शाम के समय पीपल के पेड़ के सामने दीपक जलाना चाहिए, ये कष्टों का निवारण करता है |
  • हरियाली तीज के दिन आप शिव मंदिर अवश्य जाये | लेकिन यदि आप जाने में असमर्थ हैं, तो घर में ही महादेव के समक्ष दीप जलाकर पूरी विधि से आराधना करे |
  • हरियाली तीज के दिन सुहागन महिलाये खीर बनाये और माँ पार्वती को इसका भोग लगाए | इसके बाद पति पत्नी इसका सेवन करे, इससे दाम्पत्य जीवन खुशहाल बनता है |
  • हरियाली तीज के दिन आप जरुरतमंदो को भोजन अवश्य कराये और दान अवश्य करे |
  • हरियाली तीज के दिन आप शनिदेव की भी पूजा करे | आप शनिदेव के समक्ष सरसो के तेल का दीप जलाये और शनि मंत्रो का 108 बार जाप करे |

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here