10

चीनी सैनिकों ने वास्तविक नियंत्रण रेखा (LAC) के पास कुछ स्थानों पर अभी वापसी करती हुई दिखाई नहीं दे रही है। जिसके बाद दोनों पक्षों में सेनाओं के बीच बातचीत के बाद चीनी सेना द्वारा पीछे हटने पर सहमति बनी है। बीते शुक्रवार को हुई बैठक के बाद विदेश मंत्रालय ने कहा कि, दोनों पक्षों ने इस बात पर सहमति बनी है कि, सेना की पूरी तरह से पीछे हटने की प्रक्रिया को सुनिश्चित करने और आगे के कदम तय करने के लिए सेना के वरिष्ठ कमांडरों की एक और बैठक हो सकती है।

भारत चीन सीमा विवाद पर विचार-विमर्श करने की ऑनलाइन बैठक ताजा राजनयिक वार्ता की करीब 3 घंटे तक चली। जिसके बाद ये जानकारी सामने आ ररहि है कि, सेना की पीछे हटने की प्रक्रिया फ़िलहाल आगे नहीं बढ़ पा रही है। जैसा कि, 14 जुलाई की कोर कमांडर स्तर की बैठक के बाद उम्मीद की जा रही थी।

बैठक के दौरान भारत ने चीनी सेना को कड़ा आदेश देते हुए कहा कि, उसे कोर कमांडर स्तर की बीते 4 दौर की बातचीत में तय हुई सैनिकों की वापसी प्रक्रिया का पालन करना ही होगा। जिसके बाद चीन के विदेश मंत्रालय की तरफ से कहा गया कि, दोनों पक्षों के मध्य सीमा मुद्दे पर बातचीत हुई। जिसमे दोनों ही देशों द्वारा अपने-अपने सैनिकों को वापस बुलाने की दिशा में सकारात्मक प्रगति हुई है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here