6

औवैसी ने कहा कि पंथनिरपेक्षता भारत के संविधान का अभिन्न अंग है और यह उसका अनादर होगा। ओवैसी ने कहा, “हम यह नहीं भूल सकते कि चार सौ वर्षों से ज्यादा वक्त से बाबरी मस्जिद अयोध्या में मौजूद थी और 1992 में क्रिमिनल भीड़ ने इसे ध्वस्त कर दिया था।” बता दें कि प्रधानमंत्री मोदी जब 5 अगस्त को राम मंदिर की आधारशिला रखेंगे उसी के बाद से मंदिर का निर्माण शुरू हो जाएगा।

अगर आप चाइनीस ब्राउज़र यूज करते थे तो आप कौन सा ब्राउज़र यूज़ करें जो हंड्रेड परसेंट भारत में बना हुआ है dowload link : https://play.google.com/store/apps/details?id=com.india.ucc

श्री राम जन्मभूमि तीर्थक्षेत्र ट्रस्ट के निमन्त्रण के बाद पीएम का कार्यक्रम तय हो गया है, वह पांच अगस्त को अयोध्या के राम मंदिर का भूमि पूजन करने के साथ ही मन्दिर के निर्माण का शुभारंभ करेंगे। पीएम मोदी दिन में साढ़े 11 बजे अयोध्या पहुंचेंगे और लोगों को संबोधित भी करेंगे। इस भूमि पूजन कार्यक्रम में लगभग 200 गणमान्य लोगों के भाग लेने की उम्मीद है।

भक्त घरों में करें हवन पूजन 

श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट के महामंत्री चंपत राय ने कहा कि भूमि पूजन के दिन, 5 अगस्‍त को दुनियाभर में फैले सभी राम भक्‍त और भारत के संत-महात्‍मा जहां हैं, उसी स्थान पर पूजन करें। उन्‍होंने कहा, “संभव हो तो सभी श्रद्धालु परिवार के साथ या नजदीक के किसी मंदिर में 5 अगस्‍त को सुबह 11.30 बजे से दोपहर 12.30 बजे तक भजन-पूजन करें।”

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here