8
ग्रहो का व्यक्ति के जीवन में बड़ा महत्व है | इनका सीधा असर हमारे जीवन पर पड़ता है | ग्रहो की दशा में होने वाला थोड़ा सा परिवर्तन हमारे जीवन में शुभ और अशुभ का कारण बनता है | ग्रहो की सही दशा व्यक्ति के जीवन में सुख सुविधा लाती है, तो ग्रहो की प्रतिकूल दशा लोगो के जीवन में दुःख भर देती है | ग्रहो की अशुभ दशा होने पर दान करने की सलाह दी जाती है, क्योंकि दान से ग्रह शांत होते है | आज हम आपको प्रत्येक ग्रह से जुड़े दान के बारे में बताने जा रहे है, जिनका दान करके आप ग्रहो की अशुभ दशा से छुटकारा पा सकते है |
सूर्य:- सूर्य के कमजोर होने पर लाल चन्दन, लाल वस्त्र, गेंहू, गुड, सोना, माणिक्य केसर और घी का सूर्योदय के समय दान करना चाहिए |
चन्द्रमा:- चन्द्रमा की शांति के लिए चावल, चांदी, सफ़ेद चन्दन, मोती, शंख, कपूर और दही का शाम के समय दान करना चाहिए |
मंगल:- सूर्यास्त के पौन घंटे से पहले सोना, गुड, घी, लाल वस्त्र, कस्तूरी, केसर, मूंगा, ताम्बे का बर्तन, मसूर की दाल का दान करना चाहिए |
बुध:- बुध के अशांत होने पर दिन में मूंग, फल, पन्ना, कांसे का पात्र या सोने का दान करना चाहिए |
गुरु:- शाम के समय चने की दाल, धार्मिक पुस्तक, पीले वस्त्र, पीले फल, पुखराज और केसर का दान करे |
शुक्र:- शुक्र की अशुभ स्थिति में चावल, चांदी, मिश्री, दूध, दही और सफ़ेद चन्दन का सूर्योदय के समय दान करना चाहिए |
शनि:- दोपहर के समय आप लोहा, उड़द की दाल, काले तिल, तिल का तेल, काले वस्त्र, जूते और नीलम का दान करे |
राहु:- राहु की दशा में आप तिल, सरसो, लोहे से बनी वस्तु, कंबल, सप्तधान, और गोमेद का रात्रि के समय दान करे |
केतु:- रात्रि के समय लोहा, कंबल, सप्तधान, दो रंग के कम्बल, लहसुनिया धातु और स्वर्ण का दान करे |

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here