11

इस मीटिंग में जीसी ने कई अन्य अहम फैसले भी लिए। एक अन्य निर्णय लेते हुए इंडियन प्रीमियर लीग की संचालन समिति ने यूएई में होने वाले टूर्नामेंट के दौरान कोरोना वायरस प्रतिस्थापन को मंजूरी दी। इस बार कोविड-19 के खतरे को देखते हुए टूर्नामेंट बायो-सिक्योर माहौल में खेला जाएगा। जिसमें कई गाइडलाइंस का भी ध्यान रखना होगा। इस वजह से टूर्नामेंट को दो दिन आगे बढ़ाया गया है।

इसके साथ ही आईपीएल की संचालन परिषद ने टी-20 टूर्नामेंट के लिए सभी प्रायोजकों को बरकरार रखने का निर्णय लिया जिसमें चीनी कंपनियां भी शामिल हैं। आपको बता दें कि मोबाइल कंपनी वीवो इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) की टाइटल स्पॉन्सर है, जो बोर्ड को कॉन्ट्रैक्ट के तौर पर हर साल 440 करोड़ रुपए देती है। वहीं आईपीएल का कंपनी से 5 साल का करार 2022 में समाप्त होगा। अभी हाल ही में भारत सरकार ने चीन से विवाद के बाद सुरक्षा की वजह से टिक टॉक, यूसी ब्राउजर सहित 59 ऐप्स पर बैन लगा दिया है।

भारत सरकार ने आईपीएल के 13वें सत्र के संयुक्त अरब अमीरात में 19 सितम्बर से आयोजन को हरी झंडी दिखा दी है। टूर्नामेंट 19 सितम्बर से 10 नवम्बर तक होगा। आईपीएल की संचालन परिषद की रविवार को हुई मीटिंग में निर्णय लिया गया कि इस बार आईपीएल में हर टीम में खिलाड़ियों की संख्या 24 तक होगी। आईपीएल फाइनल 10 नवम्बर को खेला जाएगा और शाम के मैच पहले के मुकाबले आधा घंटे पहले शुरू हो जायेंगे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here