12

एसोसिएशन के अध्यक्ष साजिद रशीदी ने विवादित बोल बोलते हुए कहा है कि राम मंदिर को तोड़कर वहां मस्जिद बनाई जाएगी। साथ ही उन्होंने यह भी कहा है कि विवादित स्थल पर कभी मंदिर नहीं था। वहां बाबरी मस्जिद थी और आगे चल कर मस्जिद ही रहेगी। उनके इस बयान पर भाजपा प्रवक्ता शलभ मणि त्रिपाठी ने राशिदी को तगड़ा जवाब दिया है।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के सूचना सलाहकार शलभ मणि त्रिपाठी ने रशीदी को जवाबी ट्वीट किया है। उन्होंने लिखा है कि यह 500 साल पुराना भारत नहीं है, मोदी जी का नया भारत है। यूपी में योगी जी, सीएए प्रदर्शन, पोस्टर, कुर्की, सरकारी वसूली, यह सब याद है ना। वही जिससे बचने के लिए गुहार लगाते हुए सुप्रीम कोर्ट तक दौड़ लगाए थे। यही भावना रही तो टीवी स्क्रिन से निकल कर कभी भी यूपी के चौराहों पर सरकारी पोस्टरों में चिपक जाओगे।

बता दें कि एसोसिएशन के अध्यक्ष ने कहा कि इस्लाम कहता है कि मस्जिद हमेशा मस्जिद ही रहेगी। मस्जिद को कुछ और निर्माण करने के लिए तोड़ा नहीं जा सकता। उसने कहा कि हमारा मानना है कि पहले वहां बाबरी मस्जिद थी और वह हमेशा मस्जिद के तौर पर वहां रहेगी। मंदिर को तोड़कर वहां मस्जिद नहीं बनाई गई थी लेकिन अब आगे चलकर अब ऐसा हो सकता है। वहां मंदिर को गिराकर फिर से मस्जिद बनाई जाएगी।

साजिद रशीदी यहीं नहीं रुके उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर भी तीखा हमला बोला। उन्होंने कहा कि पीएम मोदी ने राम मंदिर के भूमि पूजन में जाकर भारतीय संविधान का उल्लघंन किया है। उनके इस बयान को लेकर नया विवाद खड़ा होता दिख रहा है। कुछ लोग साजिद रशीदी के बचाव में यह तर्क दे रहे हैं कि वह मौलाना नहीं है, वह एक ट्रैवल एजेंट है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here