10

फाइनैंशल टाइम्स की रिपोर्ट के मुताबिक, माइक्रोसॉफ्ट टिकटॉक के पूरे ग्लोबल बिजनस को खरीदने की कोशिश में लगी है। टिकटॉक इंडिया बिजनस की वैल्यू 10 अरब डॉलर के करीब मानी जा रही है। पिछले रविवार को इस डील को लेकर माइक्रोसॉफ्ट की तरफ से बयान जारी किया गया था। इस बयान में कहा गया था कि वह टिकटॉक की पैरंट कंपनी ByteDance के साथ इसके अमेरिका, कनाडा, ऑस्ट्रेलिया और न्यूजीलैंड बिजनस को खरीदने को लेकर बातचीत कर रही है।

बाइटडांस के साथ बातचीत जारी- फाइनैंशल टाइम्स की रिपोर्ट में कहा गया है कि उसी समय से माइक्रोसॉफ्ट बाइटडांस के साथ टिकटॉक के ग्लोबल बिजनस को खरीदने की योजना की दिशा में बातचीत कर रही है। टिकटॉक चीन में नहीं ऑपरेट करता है। बाइटडांस ने चीन के लिए टिकटॉक की तरह दूसरा ऐप Douyin को लॉन्च किया था। माइक्रोसॉफ्ट इसे खरीदने की नहीं सोच रही है। टिकटॉक के इंडिया बिजनस की बात करें तो यह कंपनी का सबसे बड़ा मार्केट है। सेंसर टॉवर डेटा के मुताबिक, भारत में इसे 650 मिलियन (65 करोड़) बार डाउनलोड किया गया है, जबकि 200 मिलियन (20 करोड़) रजिस्टर्ड यूजर्स हैं। सरकार ने इसे जून के अंत में बैन कर दिया था।

बाइटडांस को बहुत बड़ा झटका लगा था- बाइटडांस के लिए यह बहुत बड़ा झटका है और कंपनी इस झटके से उबरना चाहती है। रिपोर्ट के मुताबिक, माइक्रोसॉफ्ट से डील हो जाने के बाद चाइनीज ऐप का तमगा हट जाएगा और दोबारा भारत में टिकटॉक शुरू हो जाएगा। रिपोर्ट में यह भी कहा गया है कि माइक्रोसॉफ्ट टिकटॉक के इंडिया बिजनस को खरीदना चाहती है लेकिन बाइटडांस इसे विदेशी या लोकल बायर्स के हाथों भी बेच सकती है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here