11

थाना शाहगंज क्षेत्र रहने वाले गुलशन माकन ने 17 हज़ार रुपए का ऑनलाइन मोबाइल मंगवाया लेकिन जब डिलीवर हुए मोबाइल का डिब्बा खोला तो उसके होश उड़ गया क्योंकि उस मोबाइल बॉक्स में बर्तन धोने के तीन साबुन निकले। जिसकी शिकायत गुलशन माकन में की। आगरा के शाहगंज क्षेत्र में रहने वाले गुलशन माकन की एक गारमेंट की शॉप है। गुलशन का कहना है कि उन्होंने एक मोबाइल फ़ोन 6 अगस्त को ऑनलाइन ख़रीदा था जो उन्हें 17 हज़ार रुपए का पड़ा था। डेबिट कार्ड से पेमेंट करने पर उन्हें 15 रुपए की छूट भी मिली थी।

जिसके बाद जब मोबाइल डिलीवर करने युवक आया तो उन्होंने उससे मोबाइल तो ले लिया लेकिन उसे जाने नहीं दिया और उसके सामने ही मोबाइल बॉक्स खोला जिसमे उन्होंने पाया कि मोबाइल तो बॉक्स में था नहीं उसकी जगह तीन बर्तन धोने वाले साबुत निकले। इसके बाद गुलशन का पारा चढ़ गया और युवक को से मोबाइल की पूरी राशि वापस करने के लिए कहा। मोबाइल डिलीवर करने आए युवक का कहना है कि उसे इस बारे में जानकारी नहीं है कि डिब्बे में क्या हैं? वो तो सिर्फ प्रोडक्ट डिलीवर करता है। इसके बाद गुलशन उसे थाने ले आये। जहां पुलिस से अपने साथ हुई ठगी के बारे में बताया।

कोरियर कंपनी के मैनेजर के खिलाफ शिकायत तो दर्ज कराइ लेकिन उन्हें अपने मोबाइल की राशि वापस नहीं मिली।ऑनलाइन शॉपिंग का बिजनेस देश में काफी ज्यादा बढ़ा है लेकिन इसके साथ फ्रॉड भी काफी होने लगा हैं। इसलिए ऑनलाइन जब भी शॉपिंग करे तो किसी सुरक्षित साइट से ही करें। अन्यथा छोटी सी छूट काफी महंगी पड़ जाती हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here