10

दिव्यांग युवक से 23 जुलाई को उसकी पाकबड़ा के युवक से निकाह हुआ था। युवती ने बताया कि मैंने सोचा था कि शादी के बाद दोनों एक-दूसरे का सहारा बनेंगे। मगर, ऐसा नहीं हुआ। वह तमाम अरमान मन में लिए विदा होकर ससुराल पहुंची थी। जिसके बाद सुहागरात को पति ने ताे उससे ठीक से बात भी नहीं की। बल्कि उसके बहनोई और अन्य युवक उससे अश्लील बातें करने लगे।

उन लोगों ने जबरन उसकी अश्लील वीडियो भी बना ली। विरोध करने पर मारपीट और जान से मारने की धमकी भी दी। अगले दिन वो अपने स्वजनों के साथ मायके चली आई। पीड़िता ने एसएसपी को पत्र देकर इंसाफ मांगा है। उन्हाेंने यह मामला नारी उत्थान केंद्र भेज दिया। गुरुवार को समाजसेविका रितु नारंग ने दोनों पक्षों को बुलाकर बात की तो युवती ने पति के साथ जाने से इंकार कर दिया और पति से तलाक मांगने लगी। इसके साथ रहकर क्या करना है जब यह मेरी सुरक्षा ही नहीं कर पाएगा। वहीँ पति और सास का कहना था कि हमें ये रिश्ता नहीं तोड़ना है।

काउंसलर ने समझाकर बीच का रास्ता निकालने का प्रयास किया, मगर दोनों में कोई नहीं माना। युवती ने बताया कि दोनों के अलग होने का निर्णय बातचीत से ही हो जाए। कोर्ट कचहरी के चक्कर से दोनों परिवारों का पैसा ही खर्च होगा। मगर, सास नहीं मानी। उनका कहना था कि हम कोर्ट जाएंगे, वहां से जो भी निर्णय हो, हमें मंजूर होगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here