10

दिल्ली में एक बार फिर से मिनी लॉकडाउन लगाया जा सकता है क्या? इस मामले पर दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन ने स्थिति राज्य सरकार की तरफ से स्थिति को साफ किया है। उन्होंने कहा कि राजधानी के 33 बड़े अस्पतालों के 80 प्रतिशत आईसीयू बेड कोरोना संक्रमितों के लिए आरक्षित रखा गया है। कल अस्पतालों के साथ बैठक के बाद दिल्ली की आप सरकार ने इसको लेकर निर्देश जारी किया है। स्वास्थ्य मंत्री ने बताया कि कोविड अस्पतालों को 30 प्रतिशत बेड बढ़ाने की छूट दी गई है। इससे किसी अस्पताल में अगर 100 बेड है तो उसमें 30 बेड और बढ़ाकर 130 किया जा सकता है।

लेकिन इस बेड प्रयोग सिर्फ कोरोना मरीज़ों के लिए करना होगा। इसी के साथ ही सत्येंद्र जैन ने दिल्ली में कोरोना के मामले बढ़ने पर मिनी लॉकडाउन की बात से साफ इनकार किया है। वहीं दिल्ली सरकार ने लॉकडाउन के दौरान बंद हुई डोरस्टेप डिलीवरी सेवाओं को फिर से शुरू कर दिया है। इसके चलते 1 सितंबर से दिल्ली के कंटेनमेंट जोन को छोड़कर सभी क्षेत्रों में डोरस्टेप डिलीवरी शुरू हो गई है। इससे दिल्लीवासीयों को आय प्रमाण पत्र, ड्राइविंग लाइसेंस तथा नए पानी के कनेक्शन से संबंधित सेवाओं की डोरस्टेप डिलीवरी का लाभ मिल रहा है।

गौरतलब है कि दिल्ली की आप सरकार ने अपनी महत्वाकांक्षी योजना को फिर से शुरू कर दिया है, जो कोरोना महामारी के चलते करीब पांच महीने से स्थगित थी। इतना ही नहीं इसके लिए सितंबर महीने के शुरुआती 10 दिनों में दिल्ली सरकार को लगभग 1000 आवेदन भी आ चुके हैं। सरकार का अनुमान है कि आने वाले दिनों में इस सेवा को जनता की ओर से बेहतर फायदा मिलेगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here