8

खबरों के मुताबिक हाल ही में पुरातत्वविद को 3,600 साल पुरानी एक ममी प्राप्त हुई है। इसके अलावा ढेर सारे जेवर मिले हैं। मिस्र और स्पेन से मिले टेक्स्ट की सहायता से 15-16 साल की इस लड़की की ममी निकाली गई।ऐसा माना जा रहा है कि यह ममी मिस्र में 17वीं शताब्दी की रही होगी। इसके अलावा साथ में मिले जेवरों से वह काफी अमीर लग रही है। यही वजह है कि पुरातत्वविद हैरान हैं क्योंकि जिस ताबूत में दफन की गई थी, वह काफी सामान्य सा लग रहा है। खबरों के मुताबिक यह लकड़ी का बना हुआ ताबूत है। इसके साथ ही लड़की ने दो छल्लेदार झुमके भी पहने हुए थे। मिस्र के पर्यटन मंत्रालय के मुताबिक इन पर तांबे की पत्ती चढ़ा होगी।

इसके साथ ही हड्डी से बनी अंगूठी है, एक नीले कांच की अंगूठी और चार गले के हार हैं जो एक सेरेमिक क्लिप से जुड़े हुए हैं। ये हार 24-27.5 इंच लंबे हैं और इनमें नीले के अलग-अलग शेड के मोती लगे हैं। इस खोज के डायरेक्टर होजे गेलन ने इसके बारे में जानकारी देते हुए बताया कि इतने पुराने होने के बावजूद सभी कपड़े सही तरह से प्रिजर्व किए गए थे।डायरेक्टर होजे गेलन के मुताबिक जेवरों के साथ ऐसे ताबूत में दफन किया जाना एक हैरान करने वाली बात है। इसके साथ ही उन्होंने संभावना जताई कि इनका इस्तेमाल खेल या नृत्य के लिए किया जाता होगा। इस ताबूत के साथ-साथ अन्य दूसरे ताबूत भी मिले हैं। इनमें से एक ममी के चेहरे पर टिन की प्लेट से लगी Eye of Horus (होरस की आंख) देखी भी गई है।

उस वक्त टिन बहुमूल्य धातु मानी जाती थी। इसलिए ऐसी प्लेट आमतौर पर नहीं देखी जाती हैं। लड़की के ताबूत के पास दूसरे मिट्टी के ताबूत हैं, दो बिल्लियों की ममी हैं, चमड़े के सैंडल और चमड़े की दो गेंदें हैं। हैरान करने वाली बात यह भी है कि लड़की के अवशेष सही से प्रिजर्व नहीं किए गए थे। इस वजह से रिसर्चर्स उसके मरने का कारण नहीं पता कर सके हैं। उसके आसपास मिले सामान से लगता है कि वह अमीर परिवार का हिस्सा रही होगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here