11

बहुत से क्रिकेटर आर्थिक तंगी से गुजरे हैं। जिसमे कोलकाता नाईट राइडर के तरफ से खेलने वाले बल्लेबाज रिंकू सिंह हैं। जो यूपी के लिये रणजी ट्राफी भी खेलते हैं। आपकों बता दें कि ये आईपीएल में आने से पहले काफी गरीब थे।

गरीबी में बिता बचपन—

रिंकू सिंह यूपी के अलीगढ़ के हैं और उनके पिता घर-घर सिलेंडर पहुंचाते हैं। रिंकू सिंह को क्रिकेट की बहुत शौक थी, लेकिन आर्थिक स्थिति से उनका परिवार परेशान थे। रिंकू सिंह ने अपने भाई से नौकरी दिलाने की बात कही। लेकिन रिंकू सिंह 9वीं क्लास फेल थे, जिसकी वजह से उनको झाड़ू मारने के नौकरी मिल रही थी, लेकिन उनको पता था कि अपनी ज़िंदगी को सिर्फ क्रिकेट से ही बदल सकते थे।

रिंकू दिल्ली में एक टूर्नामेंट खेले, जिसमे ओ मैन ऑफ द मैच में बाइक जीते, वे इस बाइक को अपने पिता जी को दी, जिससे वे सिलेंडर बाइक से डिलीवरी कर सकें। उनका परिवार काफी कर्ज से गुजर रहा था। रिंकू 2014 में फिर से खेले और काफी अच्छा प्रदर्शन किया। वही अंडर 19 से जो भी पैसा मिलता था, उसे वे घर खर्च में दे देते थे। लेकिन क्रिकेट में उन्होंने हमेशा अच्छा प्रदर्शन करते रहे, जिसने उनकी ज़िंदगी को बदल दिया।

केकेआर ने आईपीएल में खरीदा—

इस भारतीय खिलाड़ी को झाड़ू मारने की मिल रही थी नौकरी, शाहरुख़ खान ने बना दिया बड़ा नाम

आईपीएल 2018 में शरूखान की टीम कोलकाता नाईट राइडर्स ने उन्हें 80 लाख में खरीदा। जिससे अपनी परिवार के सारे कर्ज चुकाया और भाई की शादी फिर बहन की शादी की। रिंकू सिंह ने शानदार प्रदर्शन से हमेशा जगह बनाया है , और इन्हें लंबे छक्के और चौके लगाने के लिए भी जाना जाता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here