10

उत्तर प्रदेश के अंबेडकर नगर में एक बेहद दिलचस्प मामला देखने को मिला। यहां चार लड़कों के साथ भागी एक लड़की की शादी पर्ची के जरिये तय की गयी। वह यह नहीं तय कर पा रही थी कि जिन चार लड़कों के साथ भागी है उनमें से कौन सा लड़का उसे ज्यादा पसंद है। हालांकि वह लड़के भी उसके साथ शादी करने को राजी नहीं थे, लेकिन पंचायत के फैसले के आगे उन्हें झुकना पड़ा।

यह दिलचस्प वाकया अंबेडकर के टांडा कोतवाली के अजीमनगर थाना क्षेत्र का है। यहां की एक लड़की पांच दिन पहले चार लड़कों के साथ भाग गयी। इस बीच लड़कों ने उसे दो दिन तक अपनी रिश्तेदारी में छिपाकर रखा। इस बीच लड़की के परिवार वालों ने उसे ढूढ़ लिया और उसे भगाने वाले चार लड़को के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराने की तैयारी करने लगे। इसी बीच मामला पंचायत में चला गया और पंचायत ने लड़की के परिवार वालों के सामने लड़की की शादी का प्रस्ताव रख दिया, जिसे लड़की के परिवार वालों ने मान लिया, लेकिन जब लड़की से पूछा गया की वह उन चार लड़कों में से किससे शादी करना चाहती है।

बंद कमरे में हुई मंत्रणा

पंचायत के इस सवाल पर लड़की कन्फ्यूज हो गयी, उसे नहीं समझ आ रहा रहा था की कौन सा लड़का उसे ज्यादा पसंद है और वह किससे शादी करे। वहीं उन चारों लड़कों में से कोई भी लड़का उससे शादी करने राजी को नहीं था, लेकिन पंचायत के कहने पर उन्‍हें पर्ची डालकर लिए गए फैसले को स्‍वीकार करना पड़ा। कहा जा रहा है पंचों ने तीन दिन तक इस समस्या पर बंद कमरे में मंत्रणा की और उन्हीं चार लड़कों में से किसी एक से लड़की की शादी कराने का फैसला किया।

पंचायत के फैसले के बाद चारों लड़कों का नाम लिख कर एक कटोरी में रखा गया और एक छोटे बच्चे से पर्ची निकलवाई गयी। पर्ची निकलने के बाद यह मामला सुलझ गया, जिस लड़के के नाम की पर्ची निकली उसी लड़के से लड़की की शादी तय कर दी गयी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here