11

गोवा में हुए निकाय चुनावों में बीजेपी की लहर देखने को मिल रही है। पार्टी ने चुनाव में जबरदस्त प्रदर्शन किया है। बीजेपी ने पणजी में निगम की 30 में से 25 सीटों पर बढ़त बनाई हुई है। अतनासियो मोनसेरेट के द्वारा तैयार किये गए पैनल का समर्थन बीजेपी ने किया था। इसमें बीजेपी के ही कुछ लोग शामिल हैं। गोवा में कोरोना संक्रमण की वजह से होने वाले निकाय चुनाव पिछले लंबे समय से रुके हुए थे, जिसके बाद ये मामला उच्चतम न्यायालय पहुंचा और कोर्ट ने आदेश दिया कि राज्य में 30 अप्रैल तक निकाय चुनाव कराए जाएं। इसके बाद भी शनिवार को एक नगर निगम और छह नगर पालिका के साथ 17 ग्राम पंचायतों के लिए मतदान हुआ था।

इस मतदान में लोगों ने बढ़ चढ़कर हिस्सा और रिकॉर्ड 82.59 प्रतिशत वोटिंग हुई। वोटों की गिनती सोमवार (22 मार्च) से कड़ी सुरक्षा के बीच शुरू हुई है। अतनासियो मोंसेरेट पणजी की सीट से विधायक हैं जो पहले कांग्रेस में थे लेकिन वर्ष 2019 में अतनासियो अन्य कांग्रेस दस विधायकों के साथ बीजेपी में शामिल हो गए थे। अटानासियो मोनसेरेट ने ही कांग्रेस से बीजेपी में शामिल हुए विधायकों का नेतृत्व किया है। पणजी में अतनासियो का अच्छा प्रभाव है।

वर्ष 2018 में जब पणजी की सीट पर उपचुआव हुए थे तब बीजेपी उम्मीदवार को सिद्धार्थ कुनकोलियंकर अतनासियो मोंसेरेट ने हराया था। उस समय अतनासियो कांग्रेस के टिकट पर चुनाव लड़े थे। 26 वर्ष बाद बीजेपी के सिद्धार्थ कुनकोलियंकर को हार का मुंह देखना पड़ा था। और अब उनके बेटे रोहित मॉन्सेरेट पणजी निकाय चुनाव लड़ रहे हैं। गोवा के निकाय चुनाव में बीजेपी को मिल रही बढ़त का फायदा पार्टी आगामी पांच राज्यों में होने वाले विधानसभा चुनाव में उठा सकती है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here