16

शास्त्रों में बताया गया है कि हमारे शरीर पर पाए गए यह निशान हमारे भविष्य और चरित्र के बारे में बहुत कुछ कहते हैं। ज्योतिष के अनुसार माना गया है की कुछ तिल मानव जीवन पर सकारात्मक प्रभाव रखते है और कुछ नकारात्मक। आज हम आपको बताने वाले है चार ऐसी जगह जहाँ पर तिल होना बहुत ही शुभ होता है।

हथेली पर तिल- हथेली पर तिल बहुत काम लोगों में देखा जाता है, साथ ही इसके बारे में कहा जाता है की अगर तिल बंद मुट्ठी में है तो ये बहुत ही शुभ माना जाता है। हाथ के दाएं तरफ का तिल बुद्धिमान और कठोर स्वभाव का परिचय देता है, जबकि बाएं हाथ का तिल धनवान बनने का स्वप्न लिए साधारण जीवन जीने को दिखाता है।

नाक पर तिल- नाक पर जिन लोगों के तिल होता है जो थोड़े गुस्से वाले और नखरीले माने जाते है पर ज्योतिष के अनुसार ऐसे इंसान तीव्र बुद्धि के होते है जिन्हें किसी की गलत बात सहन नहीं होती। शरीर पर तिल इनके व्यवहार में आक्रमकता मिल सकती है पर ये दिल के साफ़ माने जाते है।

ठोड़ी पर तिल- बहुत से लोगो के ठोडी पर तिल होता है और ये बताता है कि ऐसे इंसान बहुत ही धनवान होते हैं। इन्हें कभी भी पैसों की कमी महसूस नहीं होती है।ठोड़ी पर तिल होना सीधे तोर पर शुभ संकेत होता है, माना जाता है की जिन लोगों के ठोड़ी के बीचो बीच तिल होता है वो अपने पार्टनर से बहुत अच्छी ट्यूनिंग रखते है। हर परिस्थिति में बीच का रास्ता निकालने में सक्षम माने जाते है।

कान पर तिल- कान पर तिल का होना इंसान को खुशनसीब, धनवान और घुमक्कड़ स्वभाव को दर्शाता है। ऐसे लोग राजाओं जिंदगी जीते हैं। ऐसे लोग बेहद भाबुक होते है। आमतौर पर अपने विवाहित जीवन में खूब प्यार पाते है। ऐसे लोगो का अपने पार्टनर के साथ रिश्ते काफी मधुर रहते है।

गर्दन पर तिल- गर्दन पर पर तिल हो तो जीवन आराम से व्यतीत होगा, यक्ति दीर्घायु, सुविधा सम्पन्न तथा अधिकारयुक्त होता है। ऐसे ब्यक्ति आशाबादी होते है। आमतौर पर सामाजिक जीवन में काफी उन्नति पाते है। अपने परिवार और समाज को एकत्रित कर विख्यात होने की कला इनमे जन्म से ही होती है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here