8

देश में कोरोना की दूसरी लहर ने तबाही मचा रखी है। हर दिन केसों की संख्या में तेजी से इजाफा हो रहा है। हालात यह हो गए हैं कि कोरोना संक्रमण के बढ़ते आंकड़ों ने अब तक के सारे रिकॉर्ड ध्वस्त कर दिए हैं। बुधवार को देश में सबसे अधिक नए मामले दर्ज किये गए। बुधवार को कोरोना संक्रमितों का आंकड़ा 1.25 लाख के आंकड़े को पार कर गया। महामारी की शुरुआत से लेकर अब तक में ऐसा पहली बार है हुआ है जब एक दिन में 1 लाख 26 हजार से अधिक नए मामले सामने आये हैं।

देश में लगातार दूसरे दिन कोविड-19 के सबसे अधिक मामले दर्ज किए गए। जबकि मंगलवार को जहां 1 लाख 15 हजार से अधिक मामले सामने आए थे। कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए अब देश में एक बार फिर पाबंदियों का दौर शुरू हो गया है। कहीं लॉकडाउन तो कहीं नाइट कर्फ्यू लगाने की घोषणाएं होने लगी हैं। मंगलवार को छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर में नौ अप्रैल से 19 अप्रैल तक पूर्ण लॉकडाउन की घोषणा की गयी। पंजाब में भी नाइट कर्फ्यू की समय सीमा 30 अप्रैल तक बढ़ा दी गयी है। बेंगलुरु में तो स्वीमिंग पूल और जिम सेंटरों को भी बंद कर दिया गया है । वहीं उत्तर प्रदेश में भी गुरुवार से लखनऊ, कानपुर समेत कई शहरों में नाइट कर्फ्यू का लगा दिया गया है

केंद्र सरकार ने किया आगाह 

देश में सितंबर 2020 में जहां कोरोना के 93 हजार के आसपास मामले आये थे है। वहीं अब देश में हर रोज 100761 नए केस मामले सामने आ रहे हैं। इन आंकड़ों को देखकर कहा जा सकता है कि वर्तमान समय में कोरोना की दूसरी लहर अपने पीक की तरफ बढ़ रही है। भारत में बढ़ते कोरोना संक्रमण के मामलों को देखते हुए केंद्र सरकार ने आगाह किया कि अगले चार सप्ताह बेहद महत्वपूर्ण हैं। लोगों को और लोगों कोसतर्क रहने की जरूरत है। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री हर्ष वर्धन ने कहा कि ऐसा लगता है कि देश में लोगों ने मास्क लगाने जैसे एहतियात को तिलांजलि दे दी है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here